ग्वालियर कलेक्टर ने किया जिले की ऋण संभाव्यता योजना बुकलेट का विमोचन

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 03:43 PM (IST)

ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नाबार्ड द्वारा वर्ष 2022-23 के लिए बैंको के लिए आठ हजार 521 करोड़ रुपये ऋण संभाव्यता का आकलन किया गया है। जो पिछले वर्ष से करीब 11 प्रतिशत अधिक है। शनिवार को बाल भवन में बैंकर्स की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक आयोजित की गई। इसमें कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने जिले की ऋण संभाव्यता योजना बुकलेट का विमोचन किया गया।

इस ऋण संभाव्यता में कृषि क्षेत्र के लिए पांच हजार 68 करोड़ रुपये, एमएसएमई के लिए दो हजार 213 करोड़ एवं अन्य प्राथमिकता के लिए एक हजार 239 करोड़ रुपये का आकलन किया गया है। कृषि मियादी ऋण में एक हजार 751 करोड़ रुपये का आकलन किया गया, जो कि कुल कृषि क्षेत्र का लगभग 35 प्रतिशत है। ऋण संभाव्यता योजना बुकलेट के विमोचन के दौरान नगर निगम कमिश्नर किशोर कान्याल, सीईओ जिला पंचायत आशीष तिवारी, एलडीओ आरबीआई अभिषेक आनंद, एलडीएम सुशील कुमार, समस्त बैंक के जिला समन्वयक एवं एनयूएलएम, एनआरएलएम के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी रही। जिन्होंने अपने विचार प्रस्तुत किए।

छह महीने बाद एटीएम तोड़ने वालों के खिलाफ दर्ज हुआ मामलाः जिंसी नाला नंबर-1 में स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक के एटीएम को तोड़कर बदमाशों ने पैसा लूटने का प्रयास किया था। इंदरगंज थाना पुलिस ने घटना के छह माह बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ एटीएम की तोड़फोड़ व चोरी के प्रयास का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि यह प्रकरण जांच के बाद दर्ज किया गया है। अब पुलिस घटना के छह माह बाद एटीएम तोड़ने वाले बदमाशों की तलाश शुरू करेगी।

Posted By: vikash.pandey