Gwalior Court News: हर थाने में वारंट तामील कराने में लापरवाही, एसपी ने जवाब पेश करने 27 तक मांगा समय

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 06:43 PM (IST)

Gwalior Court News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। मुरैना पुलिस ने एक महिला की जमानत निरस्त करने के लिए याचिका दायर की है। इस याचिका में वारंटों के तामील की स्टेट्स रिपोर्ट पेश की है। हर थाने में एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। थानों वारंट तामील नहीं कराए हैं। इनकी संख्या काफी अधिक है। इस स्थिति को देखते हुए मुरैना के एसपी आन लाइन कोर्ट के सामने उपस्थित हुए। उन्होंने जवाब पेश करने के लिए 27 अक्टूबर तक का समय ले लिया। मुरैना एसपी ललित शाक्यवार ने इस मामले में कार्रवाई के संबंध में विस्तृत रिपेार्ट के लिए समय मांगा। हाईकोर्ट में उन्हें बताना था कि डिप्टी एसपी द्वारा दिन-प्रतिदिन वारंटों की तामीली को लेकर क्या कदम उठाए हैं। क्या वे व्यक्तिगत रूप से इसकी निगरानी कर रहे हैं या नहीं। उनके द्वारा अब तक क्या कार्रवाई की गई है। ज्ञात हो कि भूरी बाई व उसके पति पर दहेज हत्या का केस दर्ज है। भूरी बाई को जिला एवं सत्र न्यायालय ने जमानत दे दी थी। इस जमानत के आधार पर पति ने हाई कोर्ट से जमानत मांगी थी। भूरी बाई की जमानत निरस्त करने के लिए हाई कोर्ट से नोटिस भेजा गया था, जिसे तामील नहीं कराया गया। इस मामलो को कोर्ट ने संज्ञान में ले लिया।

थानों में इतने वारंट समंस लंबित पड़े

कोर्ट में मुरैना जिले के वारंट, समन की स्थिति पेश की गई। मुरैना के कोतवाली थाने में 1 जुलाई 2021 तक 1061 वारंट, गिरफ्तारी वारंट तथा समंस लंबित पड़े थे। सिविल लाइंस थाने में 571 वारंट लंबित पड़े थे। सरायछोला थाने में 108 गिरफ्तारी वारंट लंबित पड़े थे, थाना स्टेशन रोड मुरैना में 124, माता बसैया थाने में 38, सिहोनिया थाने में 14, दिमनी थाने में 76, अंबाह थाने में 376, पोरसा में 146, थाना नागरा में 15, महुआ थाने में 10, बानमोर थाने में 197, नूराबाद थाने में 103, रिठोरा थाने में 39, सुमावली थाने में 40, जौरा थाने में 280, बागचीनी थाने में 73, थाना देवगढ में 20, कैलारस में 178, पुलिस थाना चिन्नोनी में 48, थाना पहाड़गढ में 28, पुलिस थाना निरार में 6, सबलगढ थाने में 117 वारंट लंबित पड़े है।

इसके अलावा एक अन्य चार्ट और पेश किया गया, जिसमें कहा गया कि 1 अगस्त 2021 तक केवल उपरोक्त वारंट में से केवल 3 गिरफ्तारी वारंट पर कार्यवाही हुई। कोतवाली पुलिस ने गैरमियादी गिरफ्तारी वारंट के चार मामलों में कार्यवाही की। इसी तरह अन्य थानों में भी चार-पांच आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में तथा अन्य वारंट पर कार्यवाही की गई। इस प्रकार विभिन्न थानों में अधिकांश मामलों में वारंटों की तामीली नहीं कराई गई।

Posted By: anil.tomar