Gwalior Court News: एक साल में नहीं दिया जवाब, कोर्ट ने दिया अंतिम मौका

Updated: | Tue, 28 Sep 2021 01:15 PM (IST)

Gwalior Court News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हाई कोर्ट की युगलपीठ ने जेनरिक मेडिसिन मामले में जवाब पेश करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया है। कोर्ट ने फटकार लगाते हुए कहा कि इतने महत्वपूर्ण मुद्दे पर राज्य शासन जवाब देने को लेकर गंभीर नहीं है। इस बार अंतिम मौका दिया जाता है। इस मामले में मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया जवाब दे चुकी है।विभोर साहू ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। याचिकाकर्ता ने तर्क दिया है कि डाक्टर अपने पर्चे पर दवाओं का ब्रांड लिख रहे हैं। इससे मरीज को महंगी दवाएं खरीदनी पड़ रही हैं, जबकि जेनरिक में वही दवाएं काफी सस्ती हैं। पर्चे पर दवाओं का फार्मूला लिखना चाहिए। मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया ने जवाब दिया था कि दवा के पर्चे पर ब्रांड लिखने को लेकर कानून बना है, लेकिन राज्य शासन को इसका पालन करना है। राज्य शासन को इस मामले में जवाब देना है।

नलकेश्वर में चलाया सफाई अभियान

शनिवार को यूथ हास्टल एसोसिएशन ग्वालियर यूनिट के 75 सदस्य नलकेश्वर महादेव पहुंचे। यहां उन्होंने सफाई अभियान चलाया। सदस्यों ने पर्यटकों द्वारा फेंकी जाने वालीं पानी को बोतल, प्लास्टिक, थैली और डिब्बों को डस्टबिन तक पहंुचाया। इस मौके पर यूनिट चेयरमैन शैलेंद्र माहौर, उपाध्यक्ष भूपेंद्र शर्मा, कोषाध्यक्ष गौरव सिंघल, संयुक्त सचिव सुनील सोनी, सहसचिव सतीश अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

Posted By: anil.tomar