HamburgerMenuButton

Gwalior Crime News: इनामी साैरभ को छुड़ाकर ले जाने के मामले में पार्षद के खिलाफ भी मामला दर्ज

Updated: | Sat, 15 May 2021 10:17 AM (IST)

Gwalior Crime News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। चार शहर के नाके पर मैनपुरी पुलिस पर हमला कर इनामी बदमाश सौरभ भदौरिया को छुड़कार ले जाने वाले हमलावरों की तलाश हजीरा थाना पुलिस ने शुरू कर दी है। यूपी पुलिस की रिपोर्ट पर सोनू सिंह, ओंकार सिंह व बहनोई पार्षद को शासकीय कार्य में बाधा डालने व पुलिस पार्टी पर हमले करने के मामले में नामजद किया है। हजीरा पुलिस के लिए बहनोई पार्षद पहेली बना हुआ है। हजीरा थाना प्रभारी आलोक सिंह परिहार का कहना है कि यह बहनोई पार्षद कौन है? इसकी अभी पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस पार्टी से विवाद होने के बाद ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी मौके पर पहुंचे थे।

मैनपुरी पुलिस को गुरुवार को इनपुट मिला था कि भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष मदन चौहान की एक जनवरी 2017 को गोली मारकर हत्या गुडडू चौहान ने कर दी थी। पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। पांच महीने पहले मृतक मदन चौहान के बेटे शिवम चौहान की कार पर गुडडू चौहान व उसके साथियों ने हत्या करने के इरादे से ताबड़तोड़ फायरिंग की थी। शिवम तो बच गया था, लेकिन शिवम की सुरक्षा के लिए तैनात गनर की गोली लगने से मौत हो गई थी। यूपी पुलिस ने तभी से इनामी को पकड़ने के लिए दबाव और बढ़ा दिया है। गुड्डू चौहान की गिरफ्तारी पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था। यूपी पुलिस के दबाव बनाने पर आरोपित गुड्डू चौहान ग्वालियर के हजीरा थाना क्षेत्र में स्थित रानीपुरा में शरण लिए हुए था। इस इनपुट पर मैनपुरी पुलिस ने दबिश दी थी। मैनपुरी पुलिस का दावा है कि एक लाख का इनामी दबिश से पहले ही मौके से निकल गया, लेकिन उसका आश्रयदाता सौरभ उर्फ गोविंद भदौरिया को मैनपुरी पुलिस ने पकड़ लिया था। सौरभ भदौरिया के साथी यूपी पुलिस पर हमला कर उसे छुड़ाकर ले गए।

कौन है सौरभ भदौरिया: पुलिस की हिरासत से एक बार फिर से भागे सौरभ भदौरिया (ठाकुर) फिरोजाबाद का रहने वाला है। 10 साल पहले उसने पत्नी की हत्या कर दी थी। इसके बाद सौरभ पुलिस हिरासत से भाग निकला था, तभी से पुलिस उसकी तलाश कर रही है। सौरभ के इनाम के संबंध में यूपी पुलिस चुप्पी साधे हुए हैं। स्थानीय पुलिस के सामने सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या वाकई एक लाख का इनामी रानीपुरा में फरारी काट रहा था। सौरभ व गुड्डू चौहान की लिंक रानीपुरा के ओमी राठौर व सोनू राठौर के यह बदमाश कैसे संपर्क में आए। क्या इन लोगों ने ग्वालियर में कोई वारदात की है। पड़ताल कर इसका पता लगाया जा रहा है।

हजीरा थाना पुलिस को सूचना दी थीः मैनपुरी एसपी अविनाश पांडे ने दावा किया है कि गुड्डू चौहान के संबंध में सटीक जानकारी मिलने पर उसे पकड़ने के लिए एसएचओ थाना दन्नाहार ओमहरि वाजपेयी के नेतृत्व में पुलिस पार्टी वैधानिक कार्रवाई के साथ भेजी गई थी। पुलिस पार्टी ने ग्वालियर जिले के हजीरा थाना पुलिस को दबिश की सूचना दी थी।

मौके से बनाए गए वीडियो से की जाएगी हमलावरों की पहचानः हजीरा थाना पुलिस को सौरभ को पकड़ने के बाद यूपी पुलिस से सवाल-जवाब करते हुए कुछ लोगों का वीडियो मिला है। इस वीडियों के आधार पर पुलिस हमलावरों की पहचान करने का प्रयास कर रही है। इस वीडियों में एक हमलावर अपना नाम नरेंद्र सिकरवार बता रहा है।

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.