HamburgerMenuButton

Gwalior Crime News: फंदे से उतारा तो लौट आई जान, घर वालों ने मृत समझकर बुलाई पुलिस

Updated: | Wed, 12 May 2021 04:15 PM (IST)

Gwalior Crime News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। पत्नी के मायके जाने से दुखी एक युवक ने गले में फांसी का डाल कर जान देने का प्रयास किया। जिस समय युवक ने फंदा डाला, उसके स्वजनों की नजर उस पर गई और उसे फंदे से उतारा, नब्ज टटोली तो युवक की नब्ज गायब थी। तुरंत ही परिजनों ने मामले इस बात की सूचना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और आवश्यक दस्तावेजों की कार्रवाई कर रही थी , तभी युवक के चेहरे पर हलचल हुई और उसकी नब्ज टटोली तो पता चला कि वह जिन्दा है। कार्रवाई कर रहे पुलिसकर्मी उसे लेकर तुरंत अस्पताल पहुंचे और उसे उपचार के लिए भर्ती कराया। समय रहते पुलिस ने उसे उपचार के लिए भर्ती कराया। जिससे उसकी जान बच गई।

थाना प्रभारी महाराजपुरा पीएस यादव ने क्षेत्र के अभिनंदन वाटिका के पीछे रहने 28 राहुल (बदला हुआ नाम) ने आज बुधवार की सुबह साढ़े बताया कि थाना वाले वर्षीय पांच बजे फांसी का फंदा बनाकर उस पर लटक गया। घटना का पता उस समय चला जब परिजन उसके कमरे में पहुंचे तो वह फंदे से झूल रहा था। तत्काल उसे फंदे से उतारा और उसकी नब्ज टटोली तो पता चला कि उसकी नब्ज गायब है। मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही महाराजपुरा थाने से उप निरीक्षक सौरभ श्रीवास्तव आरक्षक रामवीर व जगमोहन मौके पर पहुंचे और पंचनामा सहित अन्य कार्रवाई शुरू की। इसी बीच निरीक्षक सौरभ श्रीवास्तव की नजर युवक के चेहरे पर गई तो उन्हें चेहरे में हलचल नजर आई। इसके बाद युवक काे अस्पताल पहुंचाया। जहां पर वह सकुशल बच गया।

सीना मसला, लौट आई सांसे: पुलिस कर्मी जब कार्रवाई कर रहे थे तो युवक के चेहरे पर हलचल देखी। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने युवक का सीना मसला। सीना मसलने से युवक का ह्दय धड़कने लगा और सांस वापस आ गई। इसके बाद उसे अस्पताल भेजा गया। जहां पर उसकी जान बच गई।

इसलिए लगाई थी फांसी: स्वजनों ने बताया कि युवक की पत्नी उससे विवाद करती थी। विवाद करके वह युवक को धमकी देकर गई थी कि उसके खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज कराएगी। इस वजह से युवक तनाव में था और उसने फांसी लगा ली।

Posted By: anil.tomar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.