Gwalior Crime News: फरियादी ने ही करवाई थी लूट पुलिस ने किया मामले का खुलासा

Updated: | Sat, 18 Sep 2021 05:45 PM (IST)

- जीजा को फंसाने, बहन व दो अन्य के साथ बनाई थी योजना

Gwalior Crime News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। लेनदेन के विवाद पर जीजा को फंसाने के लिए साली ने बड़ी बहन के साथ मिलकर लूट की योजना का ताना-बाना बुना और वारदात को असलियत का रूप देने के लिए दो दोस्तों से घटना घटित कराई, जिससे लोगों को और पुलिस को घटना असली लगे। मामले की के बाद पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए आरोपियों के साथ ही फरियादी वउसकी बहन को हिरासत में ले लिया है।पुलिस ने पूछताछ के बाद लूटी गई नकली चेन तथा वारदात में प्रयोग की गई एक्टिवा बरामद कर ली है।

यह था मामला

सीएसपी विश्वविद्यालय राजेश सिंह तोमर व थाना प्रभारी की तेजेन्द्रवाली वाली गली निवासी निवासी 29 वर्षीय महिला ने 25 अगस्त कोशिकायत की थी कि वह अपनी दादी की बरसी का कार्ड ददेने जा रही थी और जब ओफो को बनिया के पास पहुंची तो उसके रिश्ते के जीजा रसिद खान अपने एक साथी के साथ मिले और उसकी एक्टिवा के सामने अपनी एक्टिव रोका और उससे छेड़छाड़ कर उसे ले जाने का प्रयास किया और उसकी चेन लूट कर भाग गए थे। मामले की शिकायत पर मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू की। आरोपी को तलाशा तो आरोपी स्वयं थाने आ गया और खुद को निर्दोष बताते हुए घटना के समय किसी अन्य स्थान पर होना बताया, जिसके पुख्ता सबूत भी उसने दिए।

एएसपी राजेश इंडोतिया ने बताया कि मामले की जांच में जब लगातार घटना स्थल पर लने कैमरे को खंगाला के पास ही मौजूद एक अन्य स्थान पर चेन ले जाने वाले पीड़िता से बात करते हुए नजर आए। शंका हुई तो बात करने वालों की पहचान की तो पता चला कि जिनसे पीड़िता बात कर रही थी। वह उसके परिचित है और उन्हें थाने लाकर पूछताछ की तो वह खुद को निर्दोष बताते रहे, पुलिस ने दो दिन अलग-अलग बिठाकर पूछताल की तो युवकों आनंद व अनूप ने वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया और बताया कि वारदात को उन्होंने फरियादी व उसकी बहन के कहने पर अंजाम दिया था।इसका पता चलते ही पुलिस ने बहन व फरियादी को भी हिरासत में लेकर मामला दर्ज कर लिया है। वारदात का खुलासा करनेमें एसआई चेतन सिंह यादव, कृष्णा गर्ग,आरक्षक रामफेरा, संजय गुर्जर, संवैधजितेन्द्र की सराहनीय भूमिका रही।

Posted By: anil.tomar