HamburgerMenuButton

Gwalior Dirty water problem: मंत्री की विधानसभा में नलों से आ रहा है सीवरयुक्त पानी

Updated: | Mon, 08 Mar 2021 10:25 AM (IST)

Gwalior Dirty water problem: ग्वालियर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के विधानसभा क्षेत्र में गंदे पानी की समस्या का निदान नहीं हो पा रहा है। पीएचई के अधिकारी उपनगर ग्वालियर में पानी की समस्या का निराकरण करते हैं तब तक दूसरे क्षेत्र में गंदा पानी आने लगता है। रविवार को वार्ड क्रमांक 33 स्थित धोबीघाट क्षेत्र मंे कई दिनों से नलों से सीवरयुक्त पानी आ रहा था। इसकी शिकायत 15 बार स्थानीय पूर्व पार्षद निगम के अधिकारियों से कर चुके हैं, लेकिन जब निराकरण नहीं हुआ तब पूर्व पार्षद ने निगमायुक्त शिवम वर्मा को फोन किया। जिसके बाद टीम मौके पर पहुंची और टूटी लाइन को बदला। हालांकि पानी साफ आएगा या नहीं यह मंगलवार को पानी की सप्लाई होने पर ही पता चलेगा।

वार्ड क्रमांक 33 स्थित धोबीघाट पर कई दिनों से गंदा पानी आ रहा था। स्थानीय लोगों ने इसकी कई बार शिकायत क्षेत्रीय कार्यालय में की। इसके साथ ही पूर्व पार्षद चंदू सेन ने भी इसकी शिकायत निगम के अधिकारियों से की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। रविवार को नलों से काफी अधिक बदबूदार गंदा पानी आने लगा। स्थानीय लोगों ने पूर्व पार्षद चंदू सेन को बुलाकर पूरी स्थिति बताई। पूर्व पार्षद ने पीएचई के अधिकारियों को मौके पर बुलाया। इसके बाद अधिकारियों ने कहा कि आज रविवार है, सीवर-सफाई का अमला नहीं है इसलिए समस्या का समाधान नहीं हो सकेगा। इसके बाद निगमायुक्त शिवम वर्मा को फोन कर सारी बात बताई गई। निगमायुक्त ने तत्काल समस्या को हल करने का आश्वासन दिया। इसके बाद वहां पर सीवर-सफाई एवं पीएचई का अमला पहंुचा। कर्मचारियों ने जब चेंबरों को खोलकर देखा तो वह सीवर से भरे हुए थे। इन्हीं चेंबरों के बीच से टूटी हुई पानी की पाइप लाइन गुजर रही थी। चंेबर को साफ करने के बाद टूटी हुई लाइन को बदला गया, लेकिन समस्या का निराकरण हो सका या नहीं इसका पता मंगलवार को होने वाली पानी की सप्लाई में पता चल सकेगा।

Posted By: anil.tomar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.