Gwalior Fraud News: लोन का झांसा, कारोबारी को तीन लाख की चपत

Updated: | Wed, 27 Oct 2021 07:15 PM (IST)

Gwalior Fraud News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। लोन दिलवाने का झांसा देकर दो ठगों ने मेडिकल कारोबारी को तीन लाख रुपए की चपत लगा दी। घटना हजीरा थाना क्षेत्र के चार शहर का नाका की है। ठगी का पता उस समय चला जब काफी समय होने के बाद जब लोन मंजूर नहीं हुआ। ठग उन्हें टरकाते रहे और आखिर में धमकी देने लगे। धमकी का शिकार पीड़ित थाने पहुंचा और मामले की शिकायत की। पुलिस ने उनकी शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

खुबी की बजरिया पुराना हाइकोर्ट के पास रहने वाले देवकी मदन शिवहरे पुत्र प्रेमनारायण शिवहरे मेडिकल कारोबारी है और उनकी सिविल अस्पताल हाजीरा पर शिवहरे मेडिकल स्टोर का संचालन करते हैं। कुछ समय से वह अपने बेटे धीरज को व्यापार में सेटल कराने में लगे हुए थे। मई 2019 में उनके पास देवेन्द्र सिंह पटेल व रोना पटेल आए और उनसे कहा कि उन्हें जानकारी मिली है कि बेटे के व्यापार के लिए उन्हें लोन की जरूरत है। हम लोग कंसल्टेस का काम करते है। साथ ही बताया कि उनका कार्यालय चार शहर का नाका पर है। इसके बाद मदन उनके कार्यालय गए और उनके द्वारा बताए दस्तावेज देने के बाद उनके बताए अनुसार तीन लाख रुपए नगद वा चेक की मदद से दे दिए।

कोरोना का बनाया बहाना

जब कारोबारी ने देवेन्द्र व रीना पटेल से संपर्क किया तो उन्होंने उस समय कोरोना का कहर कहकर टरकाया और कहा कि जल्द ही उनका लोन मंजूर हो जाएगा। उनकी बातों में आकर वह इंतजार करते रहे। वर्ष 2021 में जब लोगों का लोन मंजूर होने के बाद भी उनका लोन मंजूर नहीं हुआ तो उन्होंने उनसे संपर्क किया।

आवेदन ही नहीं किया

काफी समय होने के बाद जब उनके द्वारा लोन के संबंध में आवेदन मंजूर होने की बात कही तो उन्होंने एसबीआई बैंक से जानकारी जुटाई तो पता चला कि उनका आवेदन ही नहीं किया है तो लोन कैसे मंजूर होगा। जब यह बात उन्होंने आरोपियों से कही तो उन्होंने धमकी दी कि अब वह ना तो लोन कराएंगे और ना ही पैसे वापस करेंगे। उस पर जो बन सके वह कर ले. मुझे परेशान किया तो जान से मार दूंगा।

Posted By: anil.tomar