Gwalior JAH News: नवनिर्मित आइसीयू में मिले मरे चूहे,आज से हाेंगे मरीज भर्ती

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 08:26 AM (IST)

Gwalior JAH News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। जिला अस्पताल के नवनिर्मित 20 बेड के आइसीयू में शुक्रवार को 2 मरे चूहे मरे मिले। इस कारण से शुक्रवार को कोई भी मरीज भर्ती नहीं किए जा सके। मरे चूहों को सफाईकर्मियों से बाहर फिकवाकर आइसीयू का फ्यूमिगेशन कराया गया। आरएमओ डा अलोक पुरोहित का कहना है कि शनिवार से गंभीर मरीजों को भर्ती करना शुरू कर दिया जाएगा। जिसके लिए डाक्टर व स्टाफ की ड्यूटी भी लगा दी गई है। जिला अस्पताल से अभी गंभीर मरीजों को जेएएच के लिए रैफर कर दिया जाता है। इस कारण से जेएएच के मेडिसिन आइसीयू पर मरीजों का भार अधिक रहता है और मरीजों को जमीन पर लिटाकर इलाज देना पड़ रहता है। जिला अस्पताल के आइसीयू चालू होने से जेएएच का भार कम होगा।

ओपीडी में मरीजों की भीड़ पर दवाओं का टोटा

जयारोग्य अस्पताल के माधव डिस्पेंरी में हर दिन ओपीडी की संख्या ढाई हजार से अधिक पर जा रही है। दूर दराज से मरीज आकर परामर्श लेते। लेकिन इन मरीजों को डाक्टर द्वारा पर्चे पर लिखने वाली सभी दवाएं बल्लभ भाई दवा स्टोर से नहीं मिल पा रही है। उसका कारण है जयारोग्य अस्पताल में मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच दवाओं का टोटा है। जबकि अस्पताल प्रबंधन को दवाओं के लिए शासन स्तर से 72 लाख रुपए का फंड भी मिल चुका है। इसके बाद भी दवाओं की कमी से मरीज जूझ रहे हैं। ओपीडी से लेकर वार्ड तक दवाओं की कमी मरीजों को परेशानी में डाल रही है।

Posted By: anil.tomar