HamburgerMenuButton

Gwalior News: उप जिला मूल्याकंन समितियों ने नहीं भेजी रिपोर्ट

Updated: | Tue, 19 Jan 2021 05:10 PM (IST)

Gwalior News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नई कलेक्टर गाइड लाइन निर्धारण के लिए उप जिला मूल्यांकन समितियों ने समय पर रिपोर्ट नहीं दी है। यह रिपोर्ट सभी जगह से 18 दिन पहले आना थी, लेकिन नहीं आ सकी। इसको लेकर कलेक्टर काैशलेंद्र विक्रम सिंह ने सभी एसडीएम और पंजीयन विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में यह निर्देश दिए गए हैं कि जल्द बैठक लेकर डबरा,भितरवार सहित ग्वालियर की दरों को लेकर विमर्श करके अपनी रिपोर्ट दें। ज्ञात रहे कि उप जिला मूल्यांकन समितियों को 31 दिसंबर तक दर निर्धारण करके जिला मूल्यांकन समिति को रिपोर्ट भेजना थी। इसको लेकर अभी तक सिर्फ ग्वालियर की बैठक ही आयोजित हुई है। कलेक्टर ने इस पर नाराजगी जाहिर की है।

प्रत्याशी चयन के लिए दिल्ली से आए 'आप के पर्यवेक्षकः आम आदमी पार्टी ने नगरीय निकाय चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन प्रक्रिया तेज कर दी है। जिसके लिए पार्टी के दिल्ली से केंद्रीय पर्यवेक्षक दिनेश प्रताप सिंह और सुरेश कुठेत ग्वालियर पहुंचे। उन्होंने पार्टी के कार्यकताओं से मुलाकात की। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पंकज सिंह ने बताया कि दिल्ली से आए पर्यवेक्षकों ने 8 जिलों के पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और कहा कि जल्द ही मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय के लिए प्रत्याशियों की सूची जारी की जाएगी। इस अवसर पर प्रदेश प्रभारी गोपाल राय, प्रदेश संगठन मंत्री मुकेश जायसवाल,प्रदेश उपाध्यक्ष मनीक्षा तोमर,शैलेन्द्र भदौरिया अमित शर्मा आदि उपस्थित थे।

सातवें वेतनमान के लिए कृषि महाविद्यालय के प्राध्यापक मिले राज्यसभा सदस्य सेः सातवें वेतनमान न मिलना व प्रमाेशन न होने को लेकर कृषि महाविद्यालय के बाहर वैज्ञानिकों एवं प्राध्यापकों ने धरना दिया है। उनकी मांग है कि कैरियर एडवांसमेंट योजना के अंतर्गत प्रमाेशन के परिणामों को एक वर्ष से रोक कर रखा गया है। दो बार प्रमंडल की बैठकों में प्रमाेशन के लिए निर्णय लेने के बाद भी प्रमाेशन नहीं किए गए और एक साल से रोक कर रखा गया है। पेंशन वितरण एवं यूसीओ से प्रबंधन एवं वितरण का प्रकरण तीन वर्ष से लगातार संज्ञान में लाने के बाद भी सार्थक परिणाम सामने नहीं आए। आज तक सातवा वेतनमान लागू नहीं किया गया। इस तरह की अन्य मांगो के चलते आंदोलन व धरन पर बैठे प्राध्यापक राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया और केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मिले आैर उनके समक्ष अपनी मांगों को रखा। साथ ही मांगाे काे पूरा कराने के लिए सहयोग मांगा।

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.