Gwalior NSS Day New: शैक्षणिक संस्थानों में मनाया गया राष्ट्रीय सेवा योजना का 52वां स्थापना दिवस

Updated: | Sat, 25 Sep 2021 09:08 PM (IST)

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राष्ट्रीय सेवा योजना एनएसएस के स्थापना के 52 वर्ष पूर्ण होने पर शहर के शैक्षणिक संस्थानों में विभिन्ना कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। केआरजी कॉलेज, साइंस कॉलेज, म्यूजिक यूनिवर्सिटी, जेसी मिल स्कूल, वीआरजी कॉलेज आदि में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर एनएसएस कैडेट्स को राष्ट्रीय सेवा योजना के इतिहास और कार्यों से अवगत कराया गया।

केआरजी कॉलेज: कार्यक्रम में उच्च शिक्षा ग्वालियर-चंबल संभाग के लिए अतिरिक्त संचालक डा.एमआर कौशल ने कहा कि एनएसएस कौशल और व्यक्तित्व विकास का पहला चरण है। यह कौशल निपुणता के लिए बेहतर अवसर प्रदान करता है। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया।

संगीत विश्वविद्यालय: संगीत विश्विविद्यालय में भी राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा स्थापना दिवस मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में समाजसेवक जगदीश तोमर मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना युवाओं को संस्कारित करने का उपक्रम है। जो स्वामी विवेकानंद के आदर्शों पर चलना सिखाता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो. पं. साहित्य कुमार नाहर ने की।

साइंस कॉलेज: साइंस कॉलेज में भी राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा 52वां स्थापना दिवस मनाया गया। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में भौतिक शास्त्र के विभागाध्यक्ष डा. नागेंद्र चतुर्वेदी, डा. मधुकर उपाध्याय, डा. जीएस रायपुरिया व राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के अध्यक्ष डा. एके बरैया मौजूद रहे। कार्यक्रम में डा. मधुकर उपाध्याय ने छात्रों को नई शिक्षा नीति 2021 के बारे में जानकारी दी। राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डा. एके बरैया ने राष्ट्रीय सेवा योजना के महत्व और एनएसएस के उद्देश्यों की विस्तृत जानकारी छात्रों को दी।

Posted By: anil.tomar