Gwalior vaccination news: डाक्टर पहुंचे स्टाफ के साथ घर घर टीका लगाने

Updated: | Mon, 27 Sep 2021 09:47 AM (IST)

Gwalior vaccination newsग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। घर घर टीकाकरण करने के लिए वैक्सीनेशन करने वाले स्टाफ ने इंकार करने के बाद सोमवार को डाक्टर स्टाफ के साथ घर घर गर्भवती महिला व बीमार लोगों को टीका लगाने के लिए पहुंचे। लोगों केा टीकाकरण के लिए समझया और बताया कि तीसरी लहर से यही आपको बचा सकता है। जच्चा बच्चा की खुशहाल जिंदगी के लिए वैक्सीन का एक डोज बहुत जरुरी है। लोगों ने भी उत्साह के साथ डाक्टर की बात को सुना और माना और टीकाकरण में सहयोग किया।

गौरतलब है कि रविवार को स्टाफ का तर्क था कि जब वह टीका लगाने के लिए जाते हैं तो हितग्राही उनकी बात न सुनते हुए अभद्रता करने से भी नहीं चूकते। ऐसे में यदि उनके साथ डाक्टर होगा तो वह हितग्राही को उसके फायदे व नुकसान बता सकेगा । क्योंकि डाक्टर की बात को लोग सुनते ही भी हैं और अनुसरण भी करते हैें। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सोमवार को गर्भवती महिला व बीमार को केंद्र पर बुलाकर या फिर घर जाकर टीका लगाने की जिम्मेदारी दी गई है। टीकाकरण महाभियान में 52 हजार लोगों को टीका का लाभ दिया जाएगा। यह लक्ष्य पूरा करने के लिए गर्भवती महिला और बीमार लोग/जिन्हें बुखार न हो/ को टीका लगाकर पूरा किया जाएगा। इसके लिए रविवार को सीएमएचओ डा मनीष शर्मा ने सभी वार्ड के मेडिकल ऑफिर्सस की बैठक ली। जिसमें बताया कि जिले में 20 हजार गर्भवती महिलाएं और 30 हजार बीमार लोग हैं। जो अभी टीकाकरण से वंचित हैं। किस वार्ड में कितने मरीज है उनकी सूची आप सभी पर उपलब्ध है। इसलिए हर मेडिकल ऑफिसर अपने क्षेत्र में इनका शतप्रतिशत टीकाकरण कराए। यदि कोई केंद्र पर आने में असमर्थ है तो घर पहुंचकर टीका लगवाएंगे। इसके अलावा बाकी लोग केंद्रों पर पहुंचकर टीकाकरण कराएंगे। इसके लिए जिले में 369 केंद्र बनाए गए हैं। इसके साथ 85 मोबाइल वेन भी गली मोहल्ला में पहुंचकर टीकाकरण करेंगी।

महाभियान में भले ही 52 हजार लोगों केा टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है, पर हकीकत यह है कि स्वास्थ्य विभाग को टीका लगाने के लिए चार लाख लोगों का इंतजार है। दो लाख लोग तो अभी पहले डोज से वंचित हैं जबकि दूसरा डोज के लिए भी दूसरा डोज के लिए लोगों का समय पूरा हाे चुका है। पर यह लोग टीका लगवाने के लिए केंद्र तक पहुंचने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। जिन दो लाख लोगों को पहला डोज लेना है उनमें 50 हजार की संख्या गर्भवती महिला व बीमार/कैंसर,वीपी,शुगर जैसे रोगियों/ की है। यदि सोमवार को शतप्रतिशत गर्भवती महिला और बीमार को टीका का लाभ दिया जाता है तो लक्ष्य आसानी से पूरा हो जाएगा।

Posted By: anil.tomar