HamburgerMenuButton

Gwalior Vaccination News: नवरात्र में बरकरार रहा टीकाकरण का उत्साह, 11 हजार ने लगवाया टीका

Updated: | Thu, 15 Apr 2021 09:56 AM (IST)

Gwalior Vaccination News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नवरात्रि के त्योहार में भी लोगों का टीकाकरण के प्रति उत्साह बरकरार है। काेराेना महामारी काे हराने पिछले चार दिन चले टीकाकरण उत्सव में 48842 लोगों ने टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचकर संजीवनी ली।

डाक्टरों का कहना है कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए एक मात्र संजीवनी कोरोना वैक्सीन है। जिसका टीका लगने के बाद व्यक्ति संक्रमित तो हो सकता है, पर उसकी स्थिति गंभीर नहीं होगी। वह आसानी से कोरोना को हरा सकता है। अभी तक जितने भी वैक्सीनेशन के बाद संक्रमित पाए गए लाेगाें में साधारण लक्षण ही आए। बुधवार को 202 केंद्रों पर लोग सुबह से ही पहुंचना शुरू हुए और 10918 लोगों ने वैक्सीन लगवाई। वहीं गुरूवार से शुरू हाे रहे सात दिवसीय काेराेना कर्फ्यू के कारण बुधवार काे लाेग खरीदारी करने में व्यस्त रहे, जिसके कारण टीकाकरण केंद्राें पर कम संख्या में लाेग पहुंचे। प्रशासनिक अमले ने भी टीकाकरण बढ़ाने के लिए घर-घर जाकर लोगों का उत्साहवर्धन कर टीकाकरण केंद्र पर पहुंचाया।

टीकाकरण महोत्सव में मिली संजीवनी-

दिन संख्या

रविवार 12541

सोमवार 15276

मंगलवार 10107

बुधवार 10918

कुल 48842

निजी संस्थानों में नहीं खुला खाताः बुधवार को भी शहर के कुछ निजी अस्पतालाें पर टीका लगवाने के लिए काेई नहीं पहुंचा। यही नहीं जिन स्कूलाें में टीकाकरण रखा गया था, वहां भी लाेग टीका लगवाने नहीं पहुंच सके। एेसे कुछ केंद्राें काे बंद कर दिया गया। बुधवार काे दस हजार सात लाेगाें ने काेराेना वैक्सीन का पहला डाेज लिया, जबकि 911 ने दूसरा डाेज का टीका लगवाया।

आज तीस हजार लाेगाें काे टीके लगाने का लक्ष्यः स्वास्थ्य विभाग ने गुस्र्वार को 197 केंद्रों पर टीकाकरण रखा है। इन केंद्रों पर लोगों को पहुंचाने की जिम्मेदारी बीएलओ,एएनएम,आशा कार्यकर्ता,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, पटवारी,ग्राम पंचायत सचिवों को दी है। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग व प्रशासनिक अफसर निगरानी करेंगे। जिससे वैक्सीनेशन अपनी रफ्तार पकड़े रहे। गुस्र्वार को तीस हजार लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.