HamburgerMenuButton

Gwalior Water Problem News: तिघरा को पेहसारी से मिल पाएगा 1 माह का पानी

Updated: | Sat, 12 Jun 2021 10:28 PM (IST)

- प्रतिदिन 0.5 प्रतिशत बढ़ रहा है तिघरा का जलस्तर

Gwalior Water Problem News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर की पेयजल आपूर्ति के लिए ककैटो और पेहसारी बांध से छोड़े जा रहा पानी से शहर की एक माह की प्यास ही बुझ पाएगी। तिघरा का जलस्तर में प्रतिदिन 0.05 फीट की वृद्धि हो रही है। वहीं पेहसारी से छोड़ा गए पानी का 50 प्रतिशत हिस्सा ही तिघरा बांध तक पहुंच पाएगा, जबकि 50 प्रतिशत पानी का लाइन लॉस हो जाएगा। तिघरा के लिए पेहसारी बांध से शनिवार तक 209 एमसीएफटी पानी छोड़ा जा चुका है।

पेहसारी बांध से तिघरा के लिए 606 एमसीएफटी पानी छोड़ा जाना है, इसमें से मात्र 300 एमसीएफटी पानी ही तिघरा तक पहुंच सकेगा, बाकी का पानी वाष्पीकृत हो रहा है साथ ही गर्मी होने के कारण जमीन पानी सोख रही है। इसके साथ ही नदी के रास्ते में बने गढडों के कारण पेयजल के पानी का बढा हिस्सा व्यर्थ जा रहा है। क्योंकि गर्मी के माैसम में गढडे खाली होने के कारण पहले यह भर रहे हैं, साथ ही इनमें से जमीन भी पानी लगातार सोख रही है। लेकिन वर्तमान समय में गढडे भर जाने के कारण अब तिघरा में प्रतिदिन 15 एमसीएफटी पानी आ रहा है। इसमें से 9 से 10 एमसीएफटी पानी शहर के लिए सप्लाई किया जा रहा है। जबकि 0.05 एमसीएफटी पानी तिघरा में जमा हो रहा है। इसके चलते तिघरा में इस समय 1247 एमसीएफटी पानी शेष है जिसमें से 500 एमसीएफटी पानी डैडस्टोर में है जिसे निकाला नहीं जा सकता है।

फैक्ट फाइल

तिघरा का वर्तमान जलस्तर 720.75 फीट,

209 एमसीएफटी पानी छोड़ा जा चुका है पेहसारी से

ककैटो 329 एमसीएफटी

पेहसारी 277 एमसीएफटी

टोटल 606 एमसीएफटी पानी छोड़ा जाएगा तिघरा के लिए

209 एमसीएफटी पानी छोड़ा जा चुका है।

391 एमसीएफटी पानी और छोड़ा जाएगा तिघरा के लिए

वर्जन

तिघरा में 300 एमसीएफटी पानी पहुंच सकेगा, क्योंकि 50 प्रतिशत पानी का लॉस होगा, वर्तमान समय में गर्मी काफी पड़ रही है साथ ही जमीन भी प्यासी है जिसके कारण लाइन लॉस अधिक हो रहा है।

आरएल धाकड़

एसडीओ ककैटो बांध जलसंसाधन विभाग

Posted By: anil.tomar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.