HamburgerMenuButton

Gwalior Womans day News: बुंदेलखंड एक्सप्रेस को झांसी से लेकर आई कौशल्या

Updated: | Mon, 08 Mar 2021 02:18 PM (IST)

Gwalior Woman's day News: ग्वालियर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर रेलवे ने नारी सशक्ति करण का संदेश देते हुए बुंदेलखंड एक्सप्रेस की कमान महिला स्टॉफ को सौंपी। लोको पायलट कौशल्या देवी, सहायक लोको पायलट आकांक्षा गुप्ता झांसी से ग्वालियर लेकर ट्रेन लेकर आईं। अंदर सारा स्टाफ भी महिलाआंे का रहा। झांसी से ट्रेन के रवाना होने के बाद दतिया व डबरा में उनका सम्मान किया गया। अक्सर लेटर रहने वाली ट्रेन ग्वालियर स्टेशन पर अपने निर्धारित समय से 11 मिनट पहले ही पहुंच गई।

महिला लोको पायलट कौशल्यादेवी सुबह 6:15 मिनट पर झांसी से ट्रेन लेकर ग्वालियर के लिए रवाना हुई। पहली बार यात्री ट्रेन का चला रही लोको पायलट कौशल्यादेवी ने ट्रेन को 11 मिनट पहले ही सुबह 8:19 मिनट पर ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर पहुंचा दिया। जबकि ट्रेन के पहुंचने का समय सुबह 8.30 बजे है। यहां पर उनका पुष्पवर्षा एवं फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया। ट्रेन के अंदर रेलवे ने सभी महिला कर्मचारियों को तैनात किया था। इसमें महिला टीटीई और आरपीएफ की महिला कमांडो शामिल थी। यह महिला कमांडो आधुनिक हथियारों से लैस थी।

जब लोग सो रहे होते हैं, हम ट्रेन चलाते हैं: ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कौशल्या देवी ने बताया कि उन्होंने 2013 में रेलवे ज्वाइन किया था। पहली ट्रेन उन्होंने 2019 में चलाई, तब से वह मालगाड़ी ही चला रही हैं। यात्रियों से भरी ट्रेन का संचालन काफी खतरनाक व जिम्मेदारी भरा काम होता है। रेलवे लोको पायलट दिन रात काम करते हैं। जब सभी लोग सो रहे होते हैं उस समय लोको पायलट ट्रेन को चला रहे होते हैं। वहीं सहायक लोको पायलट आकांक्षा गुप्ता ने बताया कि वह रेलवे में नौकरी करती हैं, साथ ही वह अपना घर भी संभालती हैं। दोनों कार्याे को पूर्ण कुशलता के साथ करना काफी कठिन होता है।

पिछले वर्ष घोसीपुरा स्टेशन का किया था संचालन: वर्ष 2020 में रेलवे ने ग्वालियर के घोसीपुरा रेलवे स्टेशन का संचालन महिला कर्मचारियों के हाथों में सौंपा था। इस दौरान घोसीपुरा स्टेशन पर टिकट बनाना, टिकट चेक करना, महिला आरपीएफ एवं जीआरपी स्टाफ को रखा गया था। इस वर्ष भी आरपीएफ व जीआरपी ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर ऐसा ही करने की योजना बना रहा है।

Posted By: anil.tomar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.