ग्वालियर में ननद व भाभी की जांबाजी से हारा चोर, जेवर छोड़ भागा, जाने कैसे

ननद व भाभी ने घर में घुसे चोर को दबोचने का प्रयास किया और उसकी पिटाई भी की। चोर अपनी जान बचाकर भागा, लेकिन पहचानलियागया।

Updated: | Mon, 17 Jan 2022 04:25 PM (IST)

ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। गिरवाई थाना क्षेत्र के सिद्ध बाबा मंदिर के पीछे महिलाओं की जांबाजी से चोर हार गया। चोर न केवल भाग निकला, बल्कि उसने जो जेवरात चुराए थे, उन्हें भी छोड़ भागा। हालांकि महिलाओं ने चोर को पकड़ने के दौरान पहचान लिया था। इसलिए पुलिस को उसका नाम भी बता दिया। पुलिस ने आरोपित को दबोच लिया है और पूछताछ कर रही है।

छत के रास्ते आए चोर ने अलमारी का ताला तोड़कर जेवर-नगदी समेट लिए। घटना गिरवाई थाना क्षेत्र के सिद्ध बाबा मंदिर के पीछे गली नंबर दो की है। चोर जेवर-नगदी समेट कर भाग रहा था तभी भाभी और ननद की नींद खुल गई। चोर को भागते देखकर दोनों उससे भिड़ गई और उसे दबोच कर ठुकाई शुरू कर दी। अचानक पकड़े जाने और ठुकाई से घबराए चोर ने भागने में भलाई समझी और भाग निकला। घटना का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद आरोपित को दबोच लिया। गिरवाई थाना क्षेत्र के सिद्ध बाबा मंदिर के पीछे गली नंबर दो निवासी रवि कुशवाह पुत्र भूपसिंह कुशवाह प्राइवेट जॉब करता है। बीती रात वह किसी काम से बाहर गया था और घर पर उसकी पत्नी कविता और बहन ज्योति थी।

रात करीब 12 बजे जब उनकी नींद खुली तो उन्होंने देखा कि एक चोर अलमारी से जेवर व नगदी लेकर भागने की फिराक में है। इसका पता चलते ही ननद और भाभी ने योजना बनाई और चोर से भिड़ गई। अचानक दो महिलाओं द्वारा दबोचे जाने और उनके हमले से घबराए चोर के हाथ से जेवर व नगदी छूट गई और उसने भागने में ही भलाई समझी। जब कविता और ज्योति की नजर उजाले में भाग रहे चोर पर पड़ी तो उन्होंने उसे पहचान लिया। चोर पड़ोस में रहने वाला गोलू कुशवाह था। तुरंत ही पीड़िताओं ने मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और उनकी शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपी चोर को दबोच लिया।

एक चोर को दो महिलाओं ने दबोचा है। पकड़े गए चोर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जल्द ही कुछ अन्य चोरी की वारदातों का खुलासा हो सकता है। रघुवीर मीणा, थाना प्रभारी गिरवाई

Posted By: anil.tomar