ग्वालियर में बर्तन व्यापारी ने नहीं दिया वेतन, नाराज कर्मचारी ने पी लिया आलआउट

आत्महत्या करने का प्रयास करने वाले युवक का आरोप है कि उसका सेठ काम कराने के बाद भी वेतन नहीं दे रहा है।

Updated: | Fri, 27 May 2022 03:02 PM (IST)

-हालत बिगड़ने पर युवक काे अस्पताल में भर्ती कराया, बाजार में जमकर हुआ हंगामा

जाेगेंद्र सेन, ग्वालियर नईदुनिया। सराफा बाजार में शहीद अमरचंद बठिया के प्रतिमा के पीछे बर्तन कारोबारी अशोक सिंघल की दुकान के सामने उनके नौकर मनीष प्रजापति ने आत्महत्या करने के इरादे से आल आउट पी लिया। नौकर के आत्महत्या करने के प्रयास से बाजार में हंगामा मच गया। व्यापारी जमा हो गए। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। आत्महत्या करने का प्रयास करने वाले युवक का आरोप है कि उसका सेठ काम कराने के बाद भी वेतन नहीं दे रहा है। पुलिस ने युवक को इलाज के लिए अस्पताल पहुंच दिया है। पुलिस इस मामले में युवक के स्वजनाें के साथ ही व्यापारी से भी बात करके सच्चाई का पता लगाने का प्रयास कर रही है।

सराफा बाजार में शहीद अमरचंद बाठिया के पीछे अशोक सिंघल की हरीमामा के नाम से बर्तनों की दुकान है। काफी समय से बर्तन कारोबारी के यहां मनीष प्रजापति नौकरी कर रहा है। शुक्रवार की दोपहर को दुकान मालिक व नौकर के बीच वेतन को लेकर बहस हो रही थी। अचानक मनीष प्रजापति ने आत्महत्या करने के इरादे से आल आउट पी लिया। नौकर के आल आउट पीते ही व्यापारी स्तब्ध रह गया। पुलिस भी मौके पर आ गई। मनीष ने पुलिस को बताया कि नौकरी करने के एवज में मिलने वाला मासिक वेतन वह सेठ के पास जमा कर देता था, जिससे जरूरत पड़ने पर उनसे ले सके। अब जब पैसा मांगा ताे मेरा वेतन देने से इनकार कर रहे हैं। जबकि अशोक सिंघल का कहना है कि मनीष झूठ बोल रहा है। प्रति माह अपना वेतन ले जाता है। कोई बगैर वेतन क्यों नौकरी करेगा। इस पर मनीष का कहना है कि उसकी मेहनत की कमाई है। उसे वह कैसे छोड़ दे। पुलिस ने फिलहाल युवक को अस्पताल पहुंचा दिया है। पुलिस वास्तविकता का पता लगाने के लिए जांच कर रही है।

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.