जम्मू कश्मीर में आए पश्चिमी विक्षाेभ के कारण अभी राहत, अब ग्वालियर में एक सप्ताह बाद पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 09:35 AM (IST)

ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। अरब सागर का कम दबाव का क्षेत्र कमजोर पड़ने से शनिवार को आसमान साफ हो गया, जिससे न्यूनतम तामपान में गिरावट दर्ज होने से 9.5 डिसे पर आ गया। यह गिरावट एक दिन की थी, लेकिन दिन में धूप निकलने से अधिकतम तापमान 27.2 डिसे पर पहुंच गया। पिछले तीन दिन से जारी ठंड कम हो गई। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में तूफान आया है, जिससे हवा का रुख पूर्वी हो जाएगा। साथ ही जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है। इस कारण शहर में कड़ाके की ठंड एक सप्ताह तक टल गई है। 8 दिसंबर के बाद ही न्यूनतम तापमान में गिरावट संभावित है।

अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने से शहर में चार चार दिन तक बादल छाए रहे और दो दिन तक बूंदाबांदी का दौर चला। बादलों के चलते न्यूनतम तापमान 14 डिसे पर पहुंच गया था, जिससे रात में ठंड घट गई थी, लेकिन दिन के तापमान में भारी गिरावट दर्ज हुई। जिससे दिन में ठंड बढ़ गई। इस सिस्टम का असर खत्म होने से शहर का मौसम बदल गया। धूप निकलने से दिन में ठंड घट गई और काफी राहत रही। जबकि रात में बढ़ गई। यह ठंड एक दिन की थी।

नहीं हुई बारिश: जिस तरह से अंचल के ऊपर बादल छाए थे उससे बारिश की उम्मीद थी। यदि बारिश होती तो रबी की फसल को फायदा मिलता और किसानों को रहात मिलती। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

अधिकमत तापमान-27.2 डिसे

न्यूनतम तापमान-9.5 डिसे

Posted By: anil.tomar