मोहन भागवत ने कहा, भारत हिंदू राष्ट्र है, हिंदू के बिना भारत और भारत के बिना हिंदू का कोई अस्तित्व नहीं

Updated: | Sat, 27 Nov 2021 09:51 PM (IST)

ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि।राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ मोहन भागवत ने कहा कि भारत हिंदू राष्ट्र है। हिंदू के बिना भारत और भारत के बिना हिंदू का कोई अस्तित्व नहीं है। जब-जब हिंदुओं में हिंदुत्व की भावना कमजोर हुई है तब-तब हम संख्या में कम हुए हैं और हमारा विखंडन भी हुआ है। इसलिए जरूरी है कि भारत की अखंडता को बनाए रखने के लिए हिंदुओं में हिंदुत्व की भावना प्रबल हो। डॉ भागवत आज यहां एक समाचार पत्र के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे। जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल सभागार में आयोजित इस समारोह में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मुख्यअतिथि के रूप में उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि ग्वालियर के केदारधाम में 25 नवंबर से आरंभ हुए मध्य भारत प्रांत के स्वर साधक संगम (घोष शिविर) में शामिल होने के लिए डॉ भागवत शुक्रवार रात ग्वालियर पहुंचे थे। वे 28 नवंबर तक यहीं रहेंगे।

संघ प्रमुख ने इजरायल का उदाहरण देते हुए कहा कि यहूदियों का सांस्कृतिक इतिहास इजरायल से जुड़ा हुआ है। यहूदियों को भी वहां से अन्यत्र भू-भाग देने की इतिहास में कई कोशिशें हुईं लेकिन उन्होंने अपनी जमीन नहीं छोड़ी। यही वजह है दुनिया में यहूदियों का अस्तित्व आज भी बना हुआ है। उन्होंने कहा कि भारत के लोग मन और विचारों से जुड़े होते हैं। हमारे बीच संबंध बनाने के लिए व्यापार का होना जरूरी नहीं है। उन्होंने भारत और अमेरिका के बीच संबंधों पर कहा कि अमेरिका हमेशा से ही भारत से अपने रिश्ते सुदृढ़ करना चाहता है। लेकिन उनके संबंधों में व्यापारिक मूल्य अधिक होते हैं और वह अमेरिकियों के हित को सर्वोपरि रखते हैं। इसमें कोई बुराई नहीं है।

पाकिस्तान चाहता तो हिंदुस्तान नाम रख सकता था

संघ प्रमुख ने कहा भारत विभाजन के बाद पाकिस्तान चाहता तो वह अपने देश का नाम हिंदुस्तान रख सकता था। लेकिन उसे पता था कि जब भी हिंदुस्तान का नाम लिया जाएगा तो उस नाम से हिंदू और भारत को अलग नहीं कर पाएंगे। इसलिए उसने अपने देश का नाम पाकिस्तान नाम रखना उचित समझा। कार्यक्रम को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी संबोधित किया। सीएम ने कहा कि अब ध्येयनिष्ठ और मूल्य आधारित पत्रकारिता का अस्तित्व ही रहेगा। कार्यक्रम में मध्य प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, ग्वालियर के प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी, जयभान सिंह पवैया मौजूद थे।

Posted By: vikash.pandey