Scindia School News: सिंधिया स्कूल फोर्ट 124 व स्थापना दिवस पर विद्यार्थियों ने नाटक में प्रस्तुत किया कर्ण का महादान

Updated: | Fri, 22 Oct 2021 07:30 AM (IST)

Scindia School News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। सिंधिया स्कूल फोर्ट का 124 वा स्थापना दिवस गुरुवार को वर्चुअल मोड पर मनाया गया। इस अवसर पर मुख्यअतिथि के रूप में पद्म विभूषण शतरंज के भारतीय खिलाड़ी ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद मौजूद रहे। साथ ही केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद रहे। इस मौके पर विद्यार्थियों द्वारा तैयार की गई कलाकृतियों को ऑनलाइन प्रदर्शनी में प्रस्तुत किया। साथ ही वाद्य वृंद और स्कूल बैंड भी प्रस्तुति दी गई। वहीं कंप्यूटर विभाग,सामाजिक विज्ञान विभाग,फोटोग्राफी विभाग,विज्ञान विभाग,कला विभाग आदि ने प्रदर्शनी में हिस्सा लिया। इस अवसर पर आनंद ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ करने या बोलने से पहले सोचें जिंदगी का हर कदम सोच समझकर ही उठाना चाहिए। साथ ही समय की महत्वपूर्णता को समझें। टुर्नामेंट से पहले और बाद में अनुशासन रखना बेहद आवश्यक है। साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आप अपना रास्ता स्वंय बनाए एक ही धारा में बहने की जरूरत नहीं हैं। स्वंय को कठिन लक्ष्य की ओर अग्रसर करें। जरूरी नहीं की आप जीत ही हासिल करें हर रास्ते में कुछ न कुछ सीखने जरूर मिलता है। अपने लक्ष्य पर ध्यान हमेशा केंद्रित रखें। साथ ही कहा कि माधवराव सिंधिया का लक्ष्य विद्यार्थियों को अच्छा इंसान बनाना था। वहीं इस साल माधव बोर्ड वैज्ञानिक डा.पुनीत बूलचंद को दिया गया। वह 1961 बैच के विद्यार्थी रहे हैं। इस अवसर पर स्कूल प्राचार्य डा.माधवदेव सारस्वत के साथ अन्य शिक्षक भी मौजूद रहे।

नाटक में दिखाया कर्ण का महादान

10 विद्यार्थियों ने महादान नाटक का मंचन किया जिसमें कर्ण और इंद्र की कथा को नाटक के जरिए दिखाया गया। इसमें बताया कि कर्ण को महादानी कहा जाता है। क्योंकि उन्होंने रक्षा कवच दान में दे दिया था। जबकि उन्हें युद्ध में शामिल होना था किसी चीज की प्रवाह किए बगैर दान दिया। साथ ही इंग्लिशन नाटक ऑनलाइन क्लास का मंचन भी किया गया। जिसमें ऑनलाइन कक्षां में विद्यार्थी का टीचर के लिए कैसा व्यवहार होता है। इसे प्रदर्श किया।

Posted By: anil.tomar