Side effects of heavy rains in Gwalior: थाेक सब्जी व्यापारियाें की हड़ताल और भारी बारिश के कारण सब्जी की आवक घटी, मंहगे हुए आलू टमाटर

Updated: | Tue, 03 Aug 2021 02:31 PM (IST)

Side effects of heavy rains in Gwalior: अजय उपाध्याय, ग्वालियर नईदुनिया। भारी बारिश के चलते ग्वालियर सहित आसपास के जिलों में अलर्ट जारी हाे चुका है। शिवपुरी में पार्वती नदी अपने उफान पर है। रेल मार्ग से लेकर सड़क मार्ग सब बाधित हो गया है। डेम व नदियाें का पानी खेत-खलियान से निकलकर गांव में किसानाें के घरों तक जा पहुंचा है। लोग अपने घर खाली कर सुरक्षित स्थान पर जा पहुंचे। खेताें में खड़ी फसलों को बारिश के कारण काफी नुकसान हुआ है। इस कारण से शिवपुरी व आसपास के जिलों में पैदा होने वाली सब्जी जैसे टमाटर, आलू, मिर्ची, खीरा, धनिया आदि की फसल की आवक घट गई है। इधर पिछले तीन माह से लक्ष्मीगंज सब्जीमंडी के व्यापारी मेला ग्राउंड से व्यापार कर रहे थे, लेकिन बारिश के चलते उनका सामान खराब होने से व्यापारियाें ने हड़ताल की घाेषणा कर दी है। ऐसे में भारी बारिश एवं थाेक सब्जी काराेबारियाें की हड़ताल के कारण बाजार में सब्जियाें के दाम बढ़ गए हैं। एक रात में टमाटर का भाव 30 रुपये से 60 रुपये , आलू 12 से बढ़कर 20 रुपये, मिर्ची 30 से बढ़कर 70 रुपये किलो हो चुकी है। बरसात के चलते धनिया खेत में ही खराब हो गया, इसलिए पिछले दो दिन से धनिया नहीं आ रहा। अब धनिया के दाम में तेजी आने के आसार हैं।

सब्जियों के दाम इस तरह से बढ़े-

सब्जी थोक बाजार खेरिज

आलू 10 20

टमाटर 30 60

भिंडी 22 50

मिर्ची 35 70

गोभी 13 20

खीरा 10 20

पत्ता गोभी 16 25

बैंगन 10 20

अरबी 20 40

प्याज 22 35

शिमला मिर्च 35 60

वर्जन-

कुछ व्यापारियों ने हड़ताल की है तो अब नवीन मंड़ी के व्यापारियों ने माल अधिक मात्रा में मंगवाना शुरू कर दिया है। इसलिए थोक व्यापार में सब्जी के दाम में तेजी अधिक नहीं आएगी, पर जिन सब्जियों पर बारिश से नुकसान हुआ और किसान नहीं ला पा रहे हैं, उनके दाम जरुर बढ़ सकते हैं। जैसे इस समय धनिया महंगा होगा।

बनवरी राजपूत , थाेक व्यापारी नवीन सब्जी मंडी

वर्जन-

मेला ग्राउंड में बैठकर हम लोग पिछले तीन माह से व्यापार कर रहे है।। मंडी काे प्रशासन ने बंद कर दिया, जिसमें हमारी दुकानें हैं। बारिश के कारण हमारा माल खराब हो रहा है। जब तक प्रशासन हमारी दुकानें नहीं खोलता तब तक हम हड़ताल पर रहेंगे। व्यापारियों के हड़ताल पर जाने से सब्जी मंहगी हो चुकी है।

आशु पाठक, अध्यक्ष सब्जीमंडी व्यापारी संघ

Posted By: vikash.pandey