Gwalior Ramleela News: रामसेतु का किया निर्माण, लंका में अंगद ने जमाया पैर

Updated: | Wed, 27 Oct 2021 06:30 AM (IST)

-मुरार में जारी रामलीला का 12वां दिन, हुआ श्री अंगद रावण संवाद लीला का मंचन

Gwalior Ramleela News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। मुरार स्थित रामलीला मैदान में मंगलवार को 12वें दिन रामीलाल का मंचन किया गया। जिसमें रामसेतु निर्माण एवं श्री अंगद रावण संवाद लीला का सुंदर मंचन किया गया। रामलीला में सर्वप्रथम रावण ने विभीषण के पीछे दो गुप्तचर सुख और सारण भेजता है, जिन्हें हनुमान जी और सुग्रीव पकड़ कर राम जी के पास ले जाते हैं। राम जी उन्हें छोड़ देते हैं, उसके पश्चात राम जी समुद्र पार करने के लिए विभीषण के कहने पर समुद्र से विनय करते है, परंतु समुद्र के न मानने पर राम जी क्रोधित होते है और समद्र को सुखाने के लिए बाण चढ़ा लेते हैं। तभी समुद्र प्रकट होकर सेतु बांधने का उपाए बताते हैं, और फिर राम जी सेतु बांधने के लिए सुग्रीव जी से सारे इंतिजाम करने को कहते हैं। सेतु बांधने से पहले राम जी भगवान रामेश्वरम् की स्थापना करते हैं, उसके बाद सेतु पार करके लंका पहुंचते हैं। परंतु पहले विभीषण के कहने पर दूत स्वरूप अंगद को रावण से वार्ता के लिए भेजा जाता है। अंगद रावण को समझने का प्रयास करते हैं पर रावण उनकी बात नहीं मानता। फिर अंगद अपना पैर बीच सभा में जमा देते हैं, और कहते हैं कि अगर मेरा कोई पैर हटा देगा तो राम जी हार जाएंगे। परंतु कोई अंगद का पैर हटा नहीं पाता है। फिर रावण उठता है तो अंगद स्वयं अपना पैर हटा देते हैं और रावण को समझते हैं कि मेरे पैर पड़ने से कुछ नहीं पाएगा। प्रभु राम के पैर पड़ेगा को भवसागर से तर जायेगा। ये कहकर अंगद जी वापस चले जाते हैं। मंगलवार को रामलीला की आरती करने ग्वालियर पूर्व के विधायक डा.सतीश सिंह सिकरवार एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा पहुंचे।

इस दौरान रामलीला मंडल मुरार के अध्यक्ष बैजनाथ सिंह घुरैया, डायरेक्टर अखिलेश उपाध्याय, महामंत्री विकास उपाध्याय, मीडिया प्रभारी निरंजन गुर्जर ,प्रणय प्रकश शर्मा, रामबाबू शर्मा आदि समेत सैंकड़ों श्रद्धालु मौजूद रहे।

Posted By: anil.tomar