Cement Price Indore: महीने में दूसरी बार बढ़े सीमेंट के दाम, आज से 15 रुपये बोरी महंगी

Updated: | Fri, 22 Oct 2021 07:14 AM (IST)

लोकेश सोलंकी, इंदौर, नईदुनिया, Cement Price Indore।

सीमेंट के दाम में एक बार फिर बढ़ोतरी हो गई है। शुक्रवार से सभी सीमेंट कंपनियों ने इंदौर व प्रदेश के बाजारों में सीमेंट के दाम प्रति बोरी 15 रुपये बढ़ाने की घोषणा की है। इस महीने में यह दूसरा मौका है जब दाम बढ़ाए जा रहे हैं। इससे पहले 8 अक्टूबर को दामों में 10 रुपये प्रति बोरी की बढ़ोतरी की थी। कारोबारियों के मुताबिक बढ़ोतरी का सिलसिला यहीं नहीं थमने वाला है, अक्टूबर माह में सीमेंट पर प्रति बोरी 40 से 60 रुपये तक की वृद्धि की आशंका है।

सीमेंट कंपनियों ने दाम बढ़ाने के लिए एक बार फिर महंगे होते कोयले के साथ परिवहन की लागत बढ़ने का हवाला दिया है। शुक्रवार से शहर में ब्रांडेड सीमेंट की कीमत 365 से 370 रुपये प्रति बोरी हो जाएगी। इसी माह की शुरुआत में सीमेंट 330 से 340 रुपये प्रति बोरी बिक रही थी। मध्य भारत के सीमेंट के बड़े डीलर हेमंत गट्टानी के अनुसार कंपनियों की ओर से सीमेंट के दामों में वृद्धि अचानक नहीं की गई है। उपभोक्ताओं से लेकर विक्रेताओं तक को इसकी जानकारी पहले दे दी गई थी। 29-30 अक्टूबर को फिर से नए दाम घोषित किए जा सकते हैं। कंपनियों के स्तर पर हमारी भी चर्चा हुई थी। बढ़ोतरी का कारण इनपुट लागत का बढ़ना बताया जा रहा है। यह सही है कि ग्राहकों की ओर से कीमत बढ़ने पर चिंता जताई गई है।

मांग का लाभ लेने की कोशिश

बिल्डर अजय चौरड़िया के अनुसार सीमेंट कंपनियां कार्टेल बनाकर अनाप-शनाप दाम बढ़ाती हैं। इससे पहले दक्षिण भारत में दाम बढ़ा दिए गए थे। दरअसल मांग के हिसाब से सितंबर के बाद का समय सीमेंट उद्योग के लिए खास रहता है। बारिश में निर्माण कार्य थम जाते हैं। श्राद्ध पक्ष बीतने के बाद तमाम निर्माण कार्य फिर शुरू होते हैं जो गर्मियों तक तेजी से चलते हैं। कोरोना के बीते दौर से उबरने के बाद यूं भी अब निर्माण कार्यों की गति तेज हो गई है। ऐसे में मांग का लाभ लेकर कंपनियां उपभोक्ताओं की जेब पर बोझ बढ़ाने में लगी हुई हैं। निर्माण उद्योग के जानकारों ने अक्टूबर के अंत तक सीमेंट की कीमत प्रति बोरी 400 रुपये तक जाने की आशंका पहले ही जता दी थी।

150 से 175 रुपये प्रति वर्गफुट सीमेंट का खर्च

क्रेडाई के अध्यक्ष नवनीत मेहता के मुताबिक किसी भी प्रोजेक्ट में सीमेेंट और सरिये का खर्च सबसे अहम होता है। सरिये के दाम पहले से ऊंचाई पर हैं। निर्माण में 30 प्रतिशत लागत सरिये की मानी जाती है। इसी तरह प्रोजेक्ट में 150 रुपये से 175 रुपये प्रति वर्गफुट लागत सीमेंट की होती है। ताजा मूल्यवृद्धि से बिल्डरों की परेशानी बढ़ जाएगी। पुराने दामों पर बुकिंग बिल्डर्स ले चुके हैं। जबकि आने वाले प्रोजेक्ट महंगे होंगें। ऐसे में या तो खरीदारों पर बोझ डालना होगा या घाटा उठाना पड़ेगा या प्रोजेक्ट धीमे पड़ जाएंगे।

Posted By: gajendra.nagar