कपड़े पर बढ़े जीएसटी के खिलाफ इंदौर में क्लाथ मार्केट आधे दिन रहेगा बंद

Updated: | Wed, 08 Dec 2021 09:01 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कपड़ों पर बढ़ाई जा रही जीएसटी की दर और माल परिवहन पर ई-वे बिल की अनिवार्यता के खिलाफ इंदौर के व्यापारियों ने सड़क पर उतरकर विरोध शुरू करने का ऐलान किया है। महाराजा तुकोजीराव क्लाथ मार्केट मर्चेंट एसोसिएशन के साथ राजवाड़ा क्षेत्र के अन्य बाजार गुरुवार से विरोध शुरू कर रहे हैं। क्लाथ मार्केट में गुरुवार को आधे दिन दुकानें बंद रहेगी। दोपहर 1.30 बजे बाद दुकानें खोलने की घोषणा की गई हैं। इससे पहले व्यापारी संगठन मिलकर राज्यकर आयुक्त को ज्ञापन सौंपने पहुंचेंगे।

इस विरोध आंदोलन के बीच प्रदेश के प्रमुख व्यापारी एसोसिएशन के संगठन अहिल्या चेंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री ने जीएसटी और कर कानूनों की कठिनाइयों पर शहर के सभी बाजारों को एक करने का काम शुरू कर दिया है। चेंबर ने 13 दिसंबर को बड़ी बैठक बुला ली है। शहर के सौ से ज्यादा व्यापारी संगठनों को बैठक के लिए न्यौता दिया गया है। बैठक में मप्र टैक्स ला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विन लखोटिया को भी बुलाया गया है। लखोटिया व अन्य विशेषज्ञ जीएसटी के नये नियमों के असर और व्यापार में पैदा होने वाली परेशानियों की व्याख्या करेंगे। इसके आधार पर कारोबारी संगठन जीएसटी दर वृद्धि से लेेकर ई-वे बिल की अनिवार्यता जैसे ताजा संशोधनों के विरोध के लिए आंदोलन की रुपरेखा तय करेंगे। चेंबर के अध्यक्ष रमेश खंडेलवाल की ओर से सभी व्यापारी संगठनों को पत्र भेजकर कहा गया है कि जीएसटी नियम कठिन करने के साथ टैक्स वृद्धि का विरोध करना आवश्यक हो गया है।

विरोध में ये हुए एक

क्लाथ मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष हंसराज जैन, कैलाश मूंगड़ व अरुण बाकलीवाल के अनुसार कपड़े पर जीएसटी की दर 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 12 प्रतिशत की जा रही है। गुरुवार सुबह 11.30 बजे क्लाथ मार्केट एसोसिएशन के साथ सीतलामाता बाजार व्यापारी एसोसिएशन, नलिया बाखल व्यापारी एसोसिएशन, इंदौर रिटेल गारमेंट व्यापारी एसोसिएशन, सांठा बाजार व्यापारी एसोसिएशन और शकर बाजार व्यापारी एसोसिएशन के व्यापारी एसोसिएशन के प्रतिनिधि और व्यापारी एकजुट होकर विरोध करेंगे और राज्य कर आयुक्त लोकेश जाटव को ज्ञापन सौंपेंगे।

Posted By: gajendra.nagar