DAVV Indore News: एमबीए-एमटेक और एमसीए की सीएलसी का सोमवार अंतिम दिन

Updated: | Sun, 24 Oct 2021 08:17 PM (IST)

DAVV Indore News: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। एमबीए, एमटेक और एमसीए में काॅलेज लेवल काउंसिलिंग (सीएलसी) का सोमवार को अंतिम दिन है। बावजूद इसके अभी कालेजों में सीटें रिक्त है। प्रवेश कम होने से कालेजों की चिंताएं बढ़ गई है। कालेजों ने डायरेक्टोरेट आफ टेक्निकल एजुकेशन (डीईटी) से एक ओर काउंसिलिंग अतिरिक्त चरण मांगा है।

डीटीई ने 13-15 प्रतिशत तक सीटे खाली होने से सीएलसी का राउंड 25 अक्टूबर तक बढ़ाई। काॅलेज को अपने स्तर पर मेरिट सूची बनाना है। उसके आधार पर छात्र-छात्राओं को सीटें आवंटित की गई। चुनिंदा संस्थानों से संचालित कोर्स को लेकर विद्यार्थियों को रुचि अधिक रही है। इन दिनों एमबीए एचए (हास्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन) की डिमांड अधिक है। मार्केटिंग-फाइनेंस के बाद हास्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन में विद्यार्थी प्रवेश ले रहे हैं।

फीस भरने का आखिरी दिन

बीएड-एमएड में काउंसिलिंग का चौथा चरण सोमवार को खत्म होगा। आवंटन के बाद अब विद्यार्थियों को फीस जमा करना है। सोमवार रात 12 बजे तक का समय विद्यार्थियों के पास है। वैसे काॅलेज संचालकों ने एक ओर चरण की मांग उठाई है।

एयरपोर्ट पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग से बचेगा 7 करोड़ लीटर पानी

इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर 1 करोड़ 58 लाख रुपये की राशी से रेन वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी। जिसमें 7 करोड लीटर पानी बच जाएगा। अभी टर्मिनल बिल्डिंग में लगे सिस्टम से सालाना करीब 31 करोड लीटर पानी बचाया जाता है।

प्रबंधन के अनुसार हमने टेंडर निकाला है जिसमें आपरेशनल एरिया के पानी को भी बचाने की योजना है। 700 एकड़ में फेले एयरपोर्ट परिसर में से काफी हिस्सा खाली है। लेकिन बिल्डिंग, एटीसी टावर और अन्य इलाके को छोड़ कर भी काफी निर्माण कार्य है। अब यहां से भी पानी सहेजा जाएगा। इस पानी की मात्रा करीब 7 करोड़ लीटर होगी। जिससे इलाके का जल स्तर बढ़ जाएगा। वहीं अभी एयरपोर्ट से निकलने वाला पानी सिरपुर इलाके के खेतों में भी चला जाता है। जिससे वहां के किसान भी अक्सर फसल खराब होने की शिकायत करते है। रेन वाटर हार्वेस्टिंग से यह समस्या खत्म हो जाएगी।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay