Police Department Promotion: हेड कांस्टेबल को एएसआइ बना दिया, वेतनमान बढ़ाया ही नहीं

Updated: | Wed, 28 Jul 2021 10:28 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Police Department Promotion। पुलिस विभाग में हुई पदोन्नतियों में विसंगति को लेकर हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर हुई है। इसमें कहा है कि शासन ने पदोन्नति तो कर दी, लेकिन वेतनमान बढ़ाया ही नहीं। सिर्फ इतना ही नहीं, पदोन्नति की शर्तों में भी विसंगति है। इसमें कहा है कि पदोन्नत किए जा रहे व्यक्ति को किसी भी समय बगैर सुनवाई के पदोन्नति निरस्त कर पुराने पद पर भेजा जा सकता है। याचिका में इस विसंगति को दूर करने के आदेश देने की मांग की गई है।

यह जनहित याचिका एडवोकेट कृष्णा मिनेश पांडे के माध्यम से राहुल साठे ने दायर की है। इसमें कहा है कि पूरे प्रदेश में नौ हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की पदोन्न्ति हुई है। प्रक्रिया अब भी जारी है। पदोन्नति देकर सरकार हेड कांस्टेबल को एएसआइ तो बना रही है लेकिन वेतनमान हेड कांस्टेबल का ही दिया जा रहा है। पदोन्नति के साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि किसी भी वक्त पुराने पद पर वापस भेजा जा सकता है। याचिका में कहा है कि यह संविधान के प्रविधानों का उल्लंघन है।

नियमानुसार सिर्फ कदाचार सिद्ध होने पर ही किसी व्यक्ति को दी गई पदोन्नति निरस्त की जा सकती है। याचिका में इन विसंगतियों को दूर करने के आदेश देने की मांग की गई है। बुधवार को युगलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। एडवोकेट पांडे ने बताया कि याचिका में मुख्य सचिव और गृह विभाग को भी पक्षकार बनाया गया है। कोर्ट मामले में एक सप्ताह बाद सुनवाई करेगी।

Posted By: Sameer Deshpande