HamburgerMenuButton

वर्किंग एग्जीक्यूटिव्स के लिए नए पाठ्यक्रम शुरू करेगा आइआइएम

Updated: | Thu, 29 Oct 2020 10:31 PM (IST)

इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय प्रबंधन संस्थान (आइआइएम) इंदौर ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन के साथ मिलकर वर्किंग एक्जीक्यूटिव्स के लिए नए पाठ्यक्रमों की श्रृंखला पेश करने जा रहा है। ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन इंटरेक्टिव ऑनसाइट लर्निंग के क्षेत्र में एक अग्रणी संस्थान है। आइआइएम इंदौर के जाने माने प्राध्यापकों की देखरेख में तैयार नए पाठ्यक्रम इंटरएक्टिव ऑन साइट लर्निंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से 37 शहरों में विद्यार्थियों तक पहुंचाए जाएंगे। प्लेटफॉर्म शिक्षा की प्रक्रिया को नवीन तकनीक के माध्यम से जोड़ते हुए आसान बनाता है और छात्रों को शिक्षकों के साथ ऑनलाइन एवं लाइव बातचीत में भी सहायक है। नए कोर्सेज की सूची में हेल्थकेयर मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट प्रोग्राम, एप्लाइड ब्लॉकचैन में सर्टिफिकेट कोर्स और महिलाओं के लिए एक एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम शामिल है ताकि अधिक से अधिक महिलाओं को नेतृत्व करने की भूमिकाओं के लिए तैयार किया जा सके।

व्यक्तिगत विकास में मदद मिलेगी-

आइआइएम इंदौर के निदेशक डॉ. हिमांशु राय ने कहा कि हम ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन के साथ पहले चरण के तहत तीन विशिष्ट शिक्षण कार्यक्रमों को विभिन्न विषयों में शुरू करने जा रहे हैं। नए पाठ्यक्रम छात्रों की विषय विशेषज्ञता और नेतृत्व कौशल को विकसित करेंगे जिससे उन्हें पेशेवर बनाने के साथ-साथ व्यक्तिगत विकास में मदद मिलेगी। यह साझेदारी युवा पेशेवरों में करियर के अवसरों को बढ़ाएगी और महिलाओं की अधिक भागीदारी को प्रोत्साहित करते हुए वैश्विक स्किल फोर्स के निर्माण में सहायता करेगी। इस सहयोग का उद्देश्य निकट भविष्य में अधिक अत्याधुनिक कार्यक्रम और कॉर्पोरेट अनुकूलित कार्यक्रम प्रदान करना है जो कॉर्पोरेट्स के साथ-साथ व्यक्तिगत पेशेवरों को भी लाभान्वित कर सके। आइआइएम इंदौर में एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के चेयरमैन प्रशांत शालवान ने कहा कि हमारे ऑनलाइन कार्यक्रम के तहत वर्चुअल क्लास रूम में पारंपरिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम को शामिल किया गया है। साथ ही अभिनव एवं आकर्षक एजुकेशन टूल्स और कस्टमाइज्ड शिक्षण सामग्री भी उपलब्ध है। हमारी शिक्षण प्रक्रिया से वर्चुअल प्रशिक्षण अब अधिक आसान बन रहा है जो फेस टू फेस की शिक्षण तकनीक का विकल्प बनकर उभरा है।

दो और पांच साल का कार्य अनुभव जरूरी-

ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन के सीनियर डायरेक्टर अनुराग बंसल ने कहा कि पाठ्यक्रम से पेशेवरों को नेतृत्व और प्रबंधन कौशल के गुर सीखने का अवसर मिलेगा। हेल्थकेयर प्रोफेशनल के लिए हेल्थकेयर मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट प्रोग्राम है जिसमें हेल्थकेयर या संबद्ध क्षेत्रों में कम से कम पांच साल का कार्य अनुभव आवश्यक है। एप्लाइड ब्लॉकचैन में सर्टिफिकेट प्रोग्राम किसी भी डोमेन के ऐसे अधिकारियों के लिए तैयार किया गया है जिन्हें दो साल का कार्य अनुभव हो। साथ ही महिलाओ को नेतृत्व की भूमिकाओं के लिए तैयार करने के लिए एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम तैयार किया गया है। इस कोर्स में शामिल होने के लिए पांच वर्ष से अधिक के अनुभव वाले व्यवसायों से महिलाएं पात्र होंगी। सभी पाठ्यक्रम में लाइव ऑनलाइन सत्रों और फेस-टू-फेस कैम्पस मॉड्यूल का मिश्रण किया गया है जिससे क्लास रूम का असल अनुभव दिया जा सके। इसके अलावा छात्रों को उन्नत शिक्षण तकनीकों, विश्व स्तरीय शिक्षकों, कार्य के अनुभव को बेहतर करने वाली गतिविधियों, बिजनेस सिमुलेशन और कार्यशालाओं, डिस्कशन, नेटवर्किंग और प्रबंधन की व्यापक बारीकियों से लाभ होगा। पाठ्यक्रम संकाय और सर्टिफिकेशन संबंधी अधिक जानकारी भारतीय प्रबंधन संस्थान इंदौर की आधिकारिक वेबसाइटों पर देखी जा सकती है।

Posted By: sameer.deshpande@naidunia.com
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.