HamburgerMenuButton

IIT Indore Asia Ranking: आइआइटी इंदौर को मिली एशिया में 188वीं रैंक, मुंबई-दिल्ली फिसले

Updated: | Fri, 27 Nov 2020 08:18 PM (IST)

IIT Indore Asia Ranking, इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। एशियन यूनिवर्सिटी रैकिंग में आइआइटी इंदौर को एशिया के उच्च शिक्षण संस्थानों में 188वीं रैंक मिली है। आइआइटी इंदौर को क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2021 में यह स्थान दिया गया है। खास बात यह है कि इस अंतरराष्ट्रीय रैकिंग में आइआइटी मुंबई और दिल्ली फिसले हैं लेकिन इंदौर अपने पुराने स्थान को बरकरार रखने में कामयाब रहा।

क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग में भारत में पहले स्थान पर रहने वाले आइआइटी मुंबई को 37वीं रैंक मिली है। बीते वर्ष की रैंकिंग में आइआइटी मुंबई का स्थान 24वां था। यानी आइआइटी मुंबई इस वर्ष तीन स्थान नीचे खिसका है। आइआइटी दिल्ली भी चार स्थान फिसलकर इस बार रैंकिंग तालिका में 47वें नंबर पर है। बीते वर्ष दिल्ली की रैंकिंग 43 थी। इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस को भी बीते वर्ष के 51वें स्थान की बजाय इस वर्ष 56वीं रैंक के साथ संतोष करना पड़ा है।

आइआइटी इंदौर के कार्यवाहक निदेशक प्रो. निलेश जैन ने रैंक मिलने पर कहा है कि संस्थान में अकादमिक गुणवत्ता लगातार बेहतर करने के लिए छात्र-शिक्षक मिलकर काम कर रहे हैं। आइआइटी में रिसर्च को लगातार बेहतर किया जा रहा है। आने वाले वर्षों में संस्थान को इसका और भी लाभ मिलेगा। क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग में पूरे महाद्वीप के शीर्ष 650 उच्च शिक्षण संस्थानों को जगह दी जाती है।

रैकिंग के लिए छह पैमानों पर शिक्षण संस्थानों को आंका जाता है। इसमें अकादमिक गुणवत्ता के साथ ही छात्र शिक्षक अनुपात, प्रति शिक्षक शोध-रिसर्च, अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर यानी शोध और एक्सचेंज प्रोग्राम में भागीदारी के साथ कर्मचारी-शिक्षकों के लिए काम का महौल भी रैंकिंग के पैमानों में शामिल है।

Posted By: sameer.deshpande@naidunia.com
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.