हाइड्रोजन फ्यूल के उपयोग पर पांच दिनी कोर्स करा रहा है आइआइटी इंदौर

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 02:42 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) इंदौर में मिनिस्ट्री आफ ह्यूमन रिर्सोस डेवलपमेंट के सहयोग से पांच दिनी यूज आफ हाइड्रोजन फ्यूचर फ्यूल विषय पर शार्ट टर्म कोर्स कराया जाएगा। इसकी शुरुआत 20 दिसंबर को होगी।

कोर्स में हाइड्रोजन का उपयोग कैसे वाहनों में हो सकेगा इस पर विस्तार से बात होगी। इसकी तकनीकी कैसे विकसित की जाएगी। हाइड्रोजन से चलने वाले इंजन कैसे होंगे और वाहनों की सुरक्षा और अन्य विषय पर विशेषज्ञ जानकारी देंगे। कोर्स में प्रवेश प्रक्रिया 19 दिसंबर तक चलेगी। इसके लिए आइआइटी की वेबसाइट से आनलाइन आवेदन करना होगा। कार्यक्रम आनलाइन माध्यम से होगा।

कोर्स में प्रवेश लेने वाले प्रतिभागियों को ई- सर्टिफिकेट दिया जाएगा। इसमें बीटेक, एमएससी, एमटेक और पीएचडी करने वाले प्रतिभागी शामिल हो सकते हैं। इस क्षेत्र में शोध करने वाले भी आवेदन कर सकते हैं। कोर्स में प्रतिभागियों को पढ़ाने के लिए दो विशेष प्रोफेसर शामिल होंगे। इसमें से एक यूनाइटेड किंगडम के प्रोफेसर और आइआइटी इंदौर के प्रोफेसर शामिल है। फ्यूल तकनीकी पर काम करने के लिए आइआइटी इंदौर में मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग में अलग से साधन जुटाए गए हैं।आइआइटी के इस कार्यक्रम में ग्लोबल इनिशिटिव आफ एकेडमिक आफ एकेडमिक नेटवर्क भी सहयोग कर रहा है।

कोर्स में हिस्सा लेने वालों के लिए कुछ शुल्क भी निर्धारित किया गया है। यूजी और पीजी विद्यार्थियों के लिए एक हजार रुपये, शोध करने वालाें के लिए 1500, पोस्ट डाक्टरेट के लिए दो हजार, प्राइवेट कालेजों के प्रोफेसर के लिए 2500, सरकारी कालेजों के प्रोफेसर के लिए 8 हजार और इंडस्ट्रीज और रिसर्च एंड डेवलपमेंट व वैज्ञानिकों के लिए कोर्स में शामिल होने के लिए 25 हजार रुपये फीस रखी गई है।

Posted By: Sameer Deshpande