इंदौर में प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा करेंगे निजी अस्पतालों में लगे आक्सीजन प्लांटों का निरीक्षण

Updated: | Thu, 09 Dec 2021 08:16 AM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते सरकार ने कोरोना से लड़ने की तैयारियां तेज कर दी हैं। पिछले दिनों सरकारी अस्पतालों में लगे आक्सीजन प्लांटों का निरीक्षण हुआ था। गुरुवार को जिले के प्रभारी और प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा तीन निजी अस्पतालों में लगे आक्सीजन प्लांटों का निरीक्षण करेंगे। वे एक दिन भ्रमण पर नौ दिसंबर को सुबह 10 बजे इंदौर आएंगे और विभिन्न अस्पतालों में पहुंचकर ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण करेंगे।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रभारी मंत्री डॉ. मिश्र सुबह साढ़े 10 बजे सुयश अस्पताल, सुबह 10.50 बजे गीता भवन चैरिटी अस्पताल और सुबह 11.10 बजे बड़वानी प्लाजा के सामने ओल्ड पलासिया क्षेत्र स्थित एमिनेंट अस्पताल में लगे ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण करेंगे। दोपहर साढ़े 12 बजे मंत्री इंदौर से भोपाल के लिए रवाना हो जाएंगे।

ताकी पर्याप्त इंतजाम रहे

बताया जा रहा है कि सरकार कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते अतिरिक्त सतर्कता बरतना चाहती है। पिछले दिनों सरकारी अस्पतालों में लगे आक्सीजन प्लांटों का निरीक्षण भी किया गया था। चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय में कुछ दिन पहले ही आक्सीजन प्लांट का लोकार्पण हुआ है। इस प्लांट की विशेषता है कि जरूरत पड़ने पर यहां से अन्य अस्पतालों को भी आक्सीजन की सप्लाय की जा सकेगी। इतना ही नहीं इस प्लांट पर एक समय में 12 जंबो सिलिंडर भरे जा सकेंगे।

आक्सीजन के मामले में अस्पतालों के आत्मनिर्भर होने का फायदा यह रहेगा कि उन्हें मेडिकल आक्सीजन के लिए निजी सेक्टर पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। सूत्रों के मुताबिक सरकार जल्द ही कुछ सरकारी अस्पतालों में पहले से लगे आक्सीजन प्लांटों की क्षमता को बढ़ाने की योजना बना रही है।

Posted By: Sameer Deshpande