Indore Crime News: फर्जी एडवाइजरी फर्मों पर एसटीएफ का छापा, पांच आरोपित गिरफ्तार

Updated: | Mon, 20 Sep 2021 10:09 AM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Indore Crime News। संगठित अफराध पकड़ने वाली एजेंसी स्पेशल टास्क ने शनिवार को फर्जी एडवाइजरी फर्मों पर कार्रवाई की। एसटीएफ ने आदर्श,पवन सहित पांच आरोपितों को गिरफ्तारी दर्शाई है। कईं को बयान लेकर छोड़ दिया। एटीएफ ने जब्ती सामान,नकदी और बैंक खातों का खुलासा भी नहीं किया है।

जानकारी के मुताबिक एसटीएफ एसपी मनीष खत्री को सूचना मिली थी कि बंगाली चौराहा स्थित एक इमारत में सेबी में रजिस्टर्ड न होने के बावजूद कुछ लोग एडवाइजरी फर्म संचालित कर शेयर बजार में निवेश करवा रहे हैं। आरोपित निवेशकों के फर्जी खाते भी खुलवा देते है और उसमें ही राशि जमा करवाई जाती है। निरीक्षक ममता कामले,सहर्ष यादव की टीम ने छापा मारकर मौके से 11 लोगों को पकड़ा। पुलिस ने पांच आरोपितों की गिरफ्तारी दर्शाई और शेष को बयान लेकर छोड़ दिया। सूत्रों के मुताबिक आरोपित आरोपितों द्वारा जिन खातों में रुपये जमा करवाए गए वो भी फर्जी दस्तावेजों के आधार पर खुलाए गए है। पुलिस को शक खाता खोलने वाले बैंक अफसर भी आरोपितों से मिले है।


पूरे देश में फैला ठगोरों का नेटवर्क

एसटीएफ ने आरोपितों को कोर्ट पेश कर रिमांड पर भी ले लिया है। पूछताछ में बताया युवक-युवतियों को ठगी की ट्रेनिंग देकर रखा था। निवेशकों को कैसे ठगना है यह बता दिया जाता था। कंपनी में करीब 20 लोगों का स्टाफ रखा था। यहां काम करने वाली लड़कियां कईं राज्यों के लोगों के साथ धोखाधड़ी कर चुकी है।

फर्जी पत्रकारों की तलाश में जुटी पुलिस

विजयनगर थाना पुलिस ने भी फर्जी एडवाइजरी फर्म संचालक कुलदीप चंदेल को दो दिन की रिमांड पर लिया है। कुलदीप भमौरी में कंपनी खोलकर लोगों को ठगने का आरोपित है। छापे के पूर्व उसके ऑफिस में फर्जी पत्रकारों ने छापा मार 2 लाख रुपये लिए थे। हालांकि साथ में विजयनगर थाने के सिपाही भी शामिल थे। पुलिस मामले में विनय तिवारी नामक युवक को तलाश रही है।

Posted By: gajendra.nagar