HamburgerMenuButton

Indore News: बायो मेडिकल वेस्ट से यात्री गंदा कर रहे एयरपोर्ट, अब लगेगा जुर्माना

Updated: | Wed, 02 Dec 2020 11:32 AM (IST)

नवीन यादव

इंदौर , नईदुनिया,Indore News। कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए पहने जाने वाले पीपीई सूट, मास्क और फेस शील्ड जैसी चीजों से अब यात्री देवी अहिल्या अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को गंदा करने लगे है। आने-जाने वाले यात्री उपयोग के बाद इन चीजों को डस्टबिन में न डालते हुए इधर-उधर फेंक रहे हैं। जिससे एयरपोर्ट गंदा हो रहा है। अब प्रबंधन ने ऐसे लापरवाह यात्रियों को सबक सिखाते हुए उन पर जुर्माना करने का निर्णय लिया है।

एयरपोर्ट प्रबंधन के मुताबिक एयरपोर्ट पर यात्रा करने वाले यात्रियों को एयरलाइंस फेस शील्ड तो देती ही है, साथ में बीच की सीट पर बैठने वाले यात्रियों को पीपीई सूट भी दिया जाता है। आने वाले यात्री इसे निर्धारित स्थान पर फेंकने के बजाय अन्यत्र फेंक कर जा रहे हैं। कुछ यात्री तो इसे पार्किंग एरिया में भी छोड़कर चले जाते हैं जबकि पूरे एयरपोर्ट पर इन बायो मेडिकल वेस्ट को सही तरीके से फेंकने के लिए डस्टबिन लगे हुए हैं। इससे जहां एयरपोर्ट गंदा होता है वहीं संक्रमण का खतरा भी बना होता है। अब प्रबंधन ने निर्णय लिया है कि ऐसे लोगों के खिलाफ जुर्माना किया जाएगा। अगर अब कोई भी व्यक्ति टर्मिनल या टर्मिनल के बाहर मास्क, पीपीई सूट या फेशियल फेंकता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ जुर्माना लगाया जाएगा। यह राशि पांच सौ रुपये से लेकर एक हजार रुपये के बीच हो सकती है।

गौरतलब है कि एयरपोर्ट प्रबंधन अपने कचरे का निपटारा खुद ही करता है जबकि बायो मेडिकल वेस्ट का निपटारा एक एजेंसी के माध्यम से करवाया जाता है। इंदौर एयरपोर्ट पर हर दिन 30 किलो से अधिक बायो मेडिकल वेस्ट निकलता है। प्रबंधन का कहना है कि हम प्लास्टिक फ्री एयरपोर्ट है। लगातार कचरा और कार्बन फुट प्रिंट कम करने की तरफ हम काम कर रहे हैं, लेकिन यात्री एयरपोर्ट को गंदा करने लगे हैं। इसलिए ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: gajendra.nagar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.