लक्ष्मी-नारायण, भगवान दत्तात्रय एवं दास हनुमान महाराज होंगे प्रतिष्ठित

300 साल पुराने इंदौर के हंसदास मठ में सात दिनी वार्षिकोत्सव दो फरवरी से।

Updated: | Sat, 29 Jan 2022 09:11 AM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के 300 साल पुराने बड़ा गणपति स्थित प्राचीन हंसदास मठ के जीर्णोद्धार का छठा सात दिनी वार्षिकोत्सव दो फरवरी से आयोजित किया जाएगा। इस मौके पर मठ परिसर में लक्ष्मी-नारायण, भगवान दत्तात्रय एवं राम दरबार में दास हनुमान महाराज की प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा होगी।साथ ही इस दौरान संगीतमय श्रीमद भागवत ज्ञान यज्ञ एवं लक्ष्मीनारायण महायज्ञ के आयोजन होंगे।

हंस पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रामचरणदास महाराज के सानिध्य में बसंत बंचमी पर पांच फरवरी को सुबह नौ बजे ब्राह्मण बटुकों का यज्ञोपवीत संस्कार भी होगा। पं. पवनदास शर्मा ने बताया कि शहर के प्राचीन हंसदास मठ का जीर्णोद्धार वर्ष 2016 में बसंत पंचमी पर किया गया था। अब छठवें वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा की जा रही है। इनके साथ ही मठ के संस्थापक समाधिष्ठ स्वामी बाबा हंसदास महाराज एवं पूर्ववर्ती श्रीमहंत रामरतनदास महाराज की प्रतिमाएं भी स्थापित की जाएंगी।

सभी प्रतिमाएं जयपुर से निर्मित होकर इंदौर पहुंच चुकी है। इनका प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव शास्त्रोक्त विधि-विधान से जलाधिवास, अन्नाधिवास, पुष्पाधिवास एवं अन्य समस्त प्रक्रियाओं के बाद आचार्य पं. कल्याणदत्त शास्त्री के निर्देशन में होगा। इसके साथ ही दो से आठ फरवरी तक प्रतिदिन दोपहर तीन से शाम 6.30 बजे तक संगीतमय श्रीमद भागवत ज्ञान यज्ञ होगा। इसमें कथा भागवताचार्य पं. विवेक कृष्ण शास्त्री के मुखारविंद से होगी। इसी दौरान चार से आठ फरवरी तक सुबह 8.30 से दोपहर एक बजे तक श्री लक्ष्मी-नारायण महायज्ञ भी होगा। महोत्सव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इस मौके पर मालवांचल के प्रमुख साधु-संत, विद्वान भी महोत्सव में शामिल होंगे।

Posted By: Sameer Deshpande