HamburgerMenuButton

Municipal Corporation Indore News: संविद नगर खदान में भराव से बढ़ने लगीं मुश्किलें

Updated: | Tue, 19 Jan 2021 05:07 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि,Municipal Corporation Indore News। संविद नगर में वर्षों पुरानी खदान में अत्यधिक भराव के कारण आसपास के घरों में मुश्किलें पैदा होने लगी हैं। वहां नगर निगम द्वारा जगह-जगह से लाया गया मलबा ढेर के रूप में पटका जा रहा है। खदान भरने से घरों का गंदा पानी आगे नाली में बहने के बजाय वापस लौट रहा है। रहवासियों का कहना है कि खदान में बड़ी संख्या में सूअर घूमते हैं और लोगों द्वारा फेंका गया कचरा पड़ा है। नगर निगम को पहले उनकी सफाई करना चाहिए और बाद में खदान भरना चाहिए।

पिछले साल जनप्रतिनिधियों के आग्रह पर नगर निगम ने खदान भरने का काम शुरू किया था। पूर्व पार्षद आशा होलास सोनी ने निगम अधिकारियों से आग्रह किया था कि यदि खदान का समतलीकरण कर दिया जाए, तो यहां फालतू पड़ी हजारों वर्गफीट जमीन का निगम कई तरह से इस्तेमाल कर सकता है। यहां स्वास्थ्य विभाग की डिस्पेंसरी, स्कूल या निगम के वाहनों को खड़ा करने की व्यवस्था हो सकती है। इसके अलावा गरीबों के फ्लैटों के लिए बहुमंजिला इमारतें बनाने में भी जमीन का उपयोग हो सकता है। हालांकि, फिलहाल तो निगम ने खदान के उपयोग के लिए कोई योजना बनाई नहीं है, लेकिन जगह-जगह से मलबा लाकर खदान में जरूर पटका जा रहा है। क्षेत्रीय रहवासी तीरथपाल यादव ने कहा कि बुलडोजर की मदद से मलबे का समतलीकरण कर दिया जाए, तो पानी का बहाव व्यवस्थित हो सकता है। उन्होंने मांग की कि बड़ी मात्रा में पड़ा हुआ कचरा भी जल्द हटाया जाना चाहिए।

पहले से जमा पानी के कारण

हो रही है परेशानी

नगर निगम के अपर आयुक्त संदीप सोनी ने बताया कि संविद नगर खदान के आसपास बसी बस्ती के घरों के आउटफॉल बंद किए जा चुके हैं। अत्यधिक गहरी खदान में या तो बरसाती पानी जमा है या आसपास के घरों का पानी जमा है। भराव करके सबसे पहले का समतलीकरण कर रहे हैं। यदि घरों में पानी घुस रहा है, तो शिकायत दूर करेंगे। कचरे की सफाई और सूअरों को भी हटवाया जाएगा।

Posted By: gajendra.nagar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.