HamburgerMenuButton

तीन वर्षीय श्रीधि की मौत में नया मोड़, स्वजनों का कार्रवाई से इनकार

Updated: | Fri, 25 Jun 2021 10:02 AM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। भविष्य निधि कार्यालय के अफसर एसएस राहुल उपाध्याय की साढ़े तीन वर्षीय बेटी श्रीधि की मौत में नया मोड़ आ गया। स्वजनों ने राहुल के भाई अंशुल पर कार्रवाई से इन्कार कर दिया। पुलिस मर्ग केस को समाप्त करने के बारे में सोच रही है।

अन्नापूर्णा थाना क्षेत्र स्थित भविष्य निधि एन्क्लेव (केशर बाग रोड़) में पिछले शनिवार अंशुल ने श्रीधि को कार (एमपी 09सीके 4739) से उस वक्त कुचल दिया जब कार रिवर्स ले रहा था। मासूम श्रीधि दौड़ते हुए बाहर निकली और अंशुल ने पिछला पहिया सिर पर चढ़ा दिया। टीआइ गोपाल परमार के मुताबिक राहुल और उनकी पत्नी उर्वशी ने अंशुल पर कार्रवाई से इन्कार कर दिया। स्वजनों ने यह भी बताया कि अंशुल का भी श्रीधि से काफी लगाव था। हादसे के बाद वह खुद सदमे में है।

पैर में फ्रैक्चर से परेशान व्यक्ति ने लगाई फांसी

तुकोगंज थाना क्षेत्र के ग्रीन पार्क कालोनी में रहने वाले 52 वर्षीय कैलाश पुत्र गणपत सिंह पाटिल ने बुधवार देर रात बाथरूम में जाकर फांसी लगा ली। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है। पुलिस ने बताया कि कैलाश मजदूरी का काम करता था और परिवार के साथ ही रहता था। स्वजनों ने पुलिस को बताया कि पैर में फ्रैक्चर था और लाकडाउन के कारण उसकी कमाई का जरिया खत्म हो गया था, आर्थिक रूप से परेशान और असहाय होने के कारण उनसे यह कदम उठाया है। पुलिस ने मामला जांच में लिया है। स्पष्ट कारण आने के बाद आगे कार्रवाई करेगी।

Posted By: gajendra.nagar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.