इंदौर में लाखों की चोरी में पीएसटीएन डाटा निकाल रही पुलिस

Updated: | Wed, 08 Dec 2021 09:32 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सेवानिवृत्त कर्नल संजीव शर्मा, इंजीनियर शुभम जायसवाल और कारोबारी मुकेश शर्मा के घरों में हुई लाखों की चोरी में पुलिस अभी तक खाली हाथ है। बुधवार को पुलिस ने उन रास्तों की छानबीन की जिनसे चोरों के भागने की संभावना है। पुलिस ने एफएसएल विशेषज्ञ की मदद से चोरों के हाथों के चिह्न भी जुटा लिए हैं। अब पुलिस पीएसटीएन डाटा निकाल रही है।

मांगलिया बायपास स्थित ओमेक्स सिटी-2 में सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात चोर घुस गए थे। सेवानिवृत्त कर्नल संजीव शर्मा, इंजीनियर शुभम जायसवाल और कारोबारी मुकेश शर्मा के सूने मकानों के ताले तोड़कर चोर सोना-चांदी के जेवर व रुपये लेकर फरार हो गए। शर्मा ने बुधवार को पुलिसवालों को संभावित जगह बताई जहां से चोर कालोनी में प्रवेश कर सकते हैं। उन्होंने सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को सौंपे हैं जिसमें चोरों का हुलिया स्पष्ट दिखाई दे रहा है। पुलिस के मुताबिक, चोर करीब पौन घंटा कालोनी में रुके थे। संभव है इस दौरान उन्होंने मोबाइल का उपयोग किया हो। लिहाजा पब्लिक स्वीच्ड टेलीफोन नेटवर्क (पीएसटीएन) डाटा भी निकाला जा रहा है।

इंस्टीट्यूट संचालक के सूने घर में चोरी

एरोड्रम थाना क्षेत्र स्थित 24 कैरेट कालोनी में भी इंस्टीट्यूट संचालक राहुल पांडे के सूने घर में चोर घुस गए। मूलत: बिलासपुर निवासी पांडे ताला लगाकर घर गए थे। पड़ोसियों ने दरवाजा खुला देखकर पांडे को कॉल कर घटना बताई। पांडे ने पुलिस को बताया कि चोर सोना-चांदी के जेवर व रुपये ले गए हैं।

Posted By: gajendra.nagar