Public Transport in Indore: सफाई के बाद पब्लिक ट्रांसपोर्ट में भी देश में इंदौर सर्वश्रेष्ठ

Updated: | Thu, 28 Oct 2021 07:58 AM (IST)

Public Transport in Indore: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सफाई के बाद लोक परिवहन के साधन में भी शहर ने नया कीर्तिमान रच दिया है। आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने इंदौर निगम द्वारा संचालित अटल सिटी बस ट्रांसपोर्ट लिमिटेड को सिटी विद मोस्ट इनोवेटिव फाइनेंस इन मैकेनिज्म (सबसे नवीन वित्तपोषण तंत्र वाला शहर) श्रेणी में अवार्ड फार एक्सीलेंस इन अर्बन ट्रांसपोर्ट (शहरी परिवहन में उत्कृष्टता के लिए पुरस्कार) के लिए चुना है। इस श्रेणी में इंदौर का भोपाल, सूरत, अहमदाबाद सहित कई शहरों के साथ मुकाबला था। यह पुरस्कार केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी 29 अक्टूबर रात 8 बजे दिल्ली में होने वाले यूएमआइ सम्मेलन में इंदौर नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल को देंगे।

आयुक्त पाल ने बताया कि अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड द्वारा इनोवेटिव बिजनेस माडल में नवाचार किए जा रहे हैं, जिसके तहत पर्यावरण संरक्षण को दृष्टिगत रखते हुए सीएनजी में माध्यम से बसों को संचालन किया जा रहा है। बीआरटीएस, इंटरस्टेट एवं लोकल सिटी बसों का कई वर्षों से सफल संचालन हो रहा है। मंत्रालय ने शहरी परिवहन की छह श्रेणियों में प्रतियोगिता आयोजित की थी। इसमें एआइसीटीएसएल इंदौर ने सबसे नवीन वित्त पोषण तंत्र वाला शहर श्रेणी व ग्रीन मोबिलिटी श्रेणी के लिए आवेदन दिया था।

इन स्वत: संचालित वित्तीय माडलों ने बनाया बेहतर 'जन परिवहन'

- वर्ष 2006 में एआइसीटीएसएल कंपनी बनाने के साथ परिवहन क्षेत्र में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप माडल को बढ़ावा देने का उद्देश्य रखा गया।

- जेएनएनयूआरएम के तहत सौ सिटी व आइबस की कीमत का 70 फीसद अनुदान मिला। एआइसीटीएसएल ने बस खरीदी और नेट कास्ट माडल के तहत आपरेटर को चलाने को दी।

- बीआरटीएस पर आइबस के संचालन में ग्रॉस कास्ट माडल इस्तेमाल किया। एक किलोमीटर बस चलने पर आपरेटर को 46 रुपये दिए जाते थे। अब 78 रुपये दिए जा रहे हैं।

40 बसों से हुई शुरुआत, अभी चल रही 540 बसें

26 जनवरी 2006 में देश में पहली बार इंदौर में 40 सिटी बसों को पब्लिक प्रायवेट पार्टनरशिप के तहत शुरू किया गया था। अब सिटी बस प्रबंधन द्वारा 540 बसों का संचालन किया जा रहा है। इसमें 380 बसें शहर में चल रही हैं, वहीं 160 बसेंे शहर के बाहर चलाई जा रही है। वर्तमान में शहर में 100 सीएनजी चलित बसे चलाई जार ही हैं। इसमें 30 बीआरटीएस की आइ-बस व 70 सिटी बसें संचालित हो रही है। इसके अलावा इंदौर में अभी बायो सीएनजी 12 बसें चलाई जा रही हैं और आने वाले दिनों 400 बसें चलाने की योजना है। शहर में फिलहाल 40 इलेक्ट्रिक बसें संचालित की जा रही है।

फिलहाल बसों की स्थिति

- 540 बसों का संचालन

- 380 बसों का संचालन शहर में

- 160 बसों का संचालन शहर के बाहर

- 100 बसें सीएनजी चलित

- 30 सीएनजी चलित आइबस

- 70 सिटी बसें शहर में संचालित

- 12 बसें बायो सीएनजी से संचालित

- 40 इलेक्ट्रिक बसें भी

Posted By: gajendra.nagar