HamburgerMenuButton

Indore News: ‘आयोलाल झूलेलाल’ के उद्‍घोष के बीच सिंधी परिवारों ने झोली फैलाकर झूलेलाल से की कोरोना मुक्ति की प्रार्थना

Updated: | Wed, 14 Apr 2021 04:26 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Indore News। पूज्य सिंधु युवा कल्याण संगठन एवं सिंधी समाज के विभिन्न संगठनों के आव्हान पर सुबह द्वारकापुरी स्थित झूलेलाल मंदिर पर सिंधी परिवारों ने अपने आराध्य भगवान झूलेलाल के समक्ष झोली फैलाकर आरती की। इसके बाद ‘आयोलाल झूलेलाल’ के उदघोष के बीच उनसे विश्व को जल्द से जल्द कोरोना से मुक्ति दिलाने की प्रार्थना की। सुबह घरों में पकवान भी बनाए गए और संध्या को घर की दहलीज पर 5-5 दीपक रोशन किए गए।

समिति के अध्यक्ष रवि छाबड़ा एवं कार्यक्रम संयोजक विनोद कटारिया ने बताया कि झूलेलाल मंदिर पर संत सांई प्रकाश ठाकुर एवं दीपा दीदी के सान्निध्य में सबसे पहले मंदिर में लाल सांई की ध्वजा का परिवर्तन किया गया। इसके बाद अनेक सिंधी भाई-बहन बहराणा सजाकर लाए और भगवान झूलेलाल से अपनी मनोकामनाएं पूरी करने की प्रार्थना की। तदपश्चात मास्क एवं सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए पूजा-अर्चना का क्रम भी चलता रहा।

समापन अवसर पर झोली फैलाकर आरती की गई और भगवान झूलेलाल से विश्व को जल्द से जल्द कोरोना महामारी से मुक्ति दिलाने का प्रार्थना भी की गई। इस अवसर पर समाजसेवी एवं चेटीचंड उत्सव समिति के अध्यक्ष दयालदास ठाकुर, रवि छाबड़ा, महेश चुघ, अनिल खिलवानी, दीवान चावला एवं महिला मंडल की ओर से कशिश छाबड़ा, दीया छाबड़ा एवं अन्य महिलाएं भी उपस्थित रहीं।

अधिकांश सिंधी परिवारों ने अपने घरों में रहते हुए गुड़-चावल का प्रसाद बनाकर वितरण किया एवं काले अंगूर तथा खोपरे के व्यंजन भी बनाएं। सोशल मीडिया के माध्यम से दिनभर एक-दूसरे को झूलेलाल एवं संत कंवरराम जयंती पर बधाई एवं शुभकमानाएं देने का सिलसिला भी चलता रहा। इस बार चेटीचंड उत्सव का जुलूस नहीं होने के कारण अधिकांश परिवारों ने अपने आसपास के जरूरतमंद परिवारों को भोजन प्रसाद, वस्त्र एवं मिठाई भेंट की।

Posted By: Sameer Deshpande
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.