Pollution In Indore: अक्टूबर के 22 दिनों में 11 दिन रहा शहर प्रदूषण की गिरफ्त में

Updated: | Sun, 24 Oct 2021 01:54 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Pollution In Indore । शहर में बारिश का दौर थमने के साथ ही प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है। अक्टूबर के शुरुआती 22 दिनों में से 11 दिन शहर का वायु गुणवत्ता सूचंकाक स्तर 100 से अधिक रहा है। वहीं मौसम में ठंडक बढ़ने के साथ ही इसमें और वृद्वि होगी।

इस माह की शुरुआत में एक अक्टूबर को शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 46 के स्तर पर था, लेकिन इसके बाद अचानक प्रदूषण स्तर बढ़ने लगा है। कुछ दिनों पहले हुई बारिश के कारण जरूर शहर का प्रदूषण स्तर कम हुआ था, लेकिन अब फिर धीरे-धीरे वृद्वि हो रही है। 21 अक्टूबर को प्रदूषण स्तर 159 तक पहुंच गया था। उस दिन शहर के हवा में धूल के कण पीएम-10 का औसत 188 था। वहीं पीएम 2.5 की मात्रा भी 68.42 मापी गई है। लाकडाउन के समय से शहर का प्रदूषण स्तर काफी कम था।

राजवाड़ा क्षेत्र के निर्माण टूटने से भी उठ रही धूल

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार, राजवाड़ा के आसपास सड़क चौड़ीकरण में टूट रहे मकान और दुकानों से भी प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। हालांकि नगर निगम सफाई पर ध्यान दे रहा है। कोठारी मार्केट में की जाने वाली मैन्यूअल मानीटरिंग में भी इन दिनों बढ़े हुए आंकड़े आ रहे हैं। हालांकि यहां बोर्ड द्वारा सप्ताह में दो दिन ही मानीटरिंग की जाती है, जबकि खुद के कार्यालय और सांवेर रोड पर दो-दो दिन मानीटरिंग की जाती है। इसके अलावा डीआइजी कार्यालय पर रोजाना 24 घंटे मानीटरिंग होती है।

पराली जलाने से भी बढ़ेगा प्रदूषण

जानकारों के अनुसार, अभी फसल कट रही है। किसानों ने पराली जलाना भी शुरू कर दिया है। हालांकि हवा का दबाव कम होने से इसका प्रभाव कम है। लेकिन हवा की गति बढ़ने के बाद इसमें वृद्वि हो जाएगी और शहर में प्रदूषण स्तर बढ़ेगा। यह बढ़ता स्तर बच्चों, वृद्धों और सांस के मरीजों के लिए हानिकारक होता है।

11 दिनों की स्थिति

दिनांक वायु गुणवत्ता सूचकांक स्तर

9 अक्टूबर 101

11 अक्टूबर 101

12 अक्टूबर 117

13 अक्टूबर 130

14 अक्टूबर 143

15 अक्टूबर 150

16 अक्टूबर 141

19 अक्टूबर 125

20 अक्टूबर 146

21 अक्टूबर 159

22 अक्टूबर 143

( प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से प्राप्त आंकड़े)

Posted By: Sameer Deshpande