क्रिप्टो करेंसी एप से इंदौर में धोखाधड़ी करने वाले आरोपित के लैपटाप व मोबाइल जब्त

Updated: | Wed, 01 Dec 2021 09:21 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। क्रिप्टो करेंसी के जापानी एप में छेड़छाड़ कर निवेशकों के 10 करोड़ से अधिक के बिटक्वाइ और ईथर क्वाइन निकालकर धोखा करने वाला आरोपित गुरुवार तक रिमांड पर है। साइबर सेल एसपी ने बताया कि बुधवार को टीम ने आरोपित के लैपटाप व मोबाइल जब्त किए हैं। आरोपित को लेकर उसके दफ्तर व घर भी गई थी, यहां से टीम को कुछ दस्तावेज भी मिले हैं,जिसमें क्रिप्टों करेंसी से संबंधित एप व उसके पार्सवर्ड लिखे हुए थे, साथ ही जिस जापानी वालेट से धोखाधड़ी की, उसकी तकनीकी जानकारी भी इन दस्तावेजों में है। पुलिस गुरुवार को करेंसी के संबंध में और भी पूछताछ की जानी है।

राज्य साइबर सेल एसपी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि आरोपित संदीप गोस्वामी निवासी जिला सागर से धोखाधड़ी के मामले में कई तकनीकी जानकारी हासिल की जा रही है। आरोपित ने जावानी क्लाइंट व जापानी एप वालेट के संचालक रियोत केशी कुबो के एप में तकनीकी रूप से सेंधमारी कर बिटक्वाइन और ईथर क्वाइन निकाले और उसे वजीरेक्स एप का उपयोग कर मां और पत्नी के खाते में ट्रांसफर कर रुपये निकाल लिए थे।इसकी शिकायत इंदौर की साफ्टवेयर कंपनी चलाने वाले व एप डेव्लपर पीयूष सिंह ने शिकायत की थी।

फांसी लगाकर जान दी

बंगाली चौराहा क्षेत्र में रहने वाले 20 वर्षीय सुरेंद्र पुत्र रामेश्वर दरोले ने बुधवार सुबह करीब सात बजे फांसी लगाकर जान दे दी। घर में केवल मां थी, पत्नी मायके गई हुई है। मां बाथरूम गई थी, जब बाहर आई तो देखा बेटा फंदे पर लटका हुआ है। पड़ोसियों ने उसे उतारा और अस्पताल लेकर गए। खजराना थाना पुलिस को अस्पताल से सूचना मिलने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। फिलहाल आत्महत्या का कारण पता नहीं चल पाया है।

Posted By: gajendra.nagar