इंदौर में देह व्यापार : फर्जी आइडी से शेल्टर होम भेजी लड़की को ले गया था तस्कर

Updated: | Sat, 27 Nov 2021 07:40 AM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बांग्लादेशी लड़कियों की खरीद-फरोख्त में गिरफ्तार बबलू उर्फ पलाश सरकार भी वर्षों से देह व्यापार और मानव तस्करी में लिप्त है। आरोपित पिछले वर्ष शेल्टर होम भेजी एक लड़की को फर्जी आइडी कार्ड से छुड़वा कर गुजरात ले गया था। इस लड़की को विजय नगर थाना पुलिस ने मोहित गेस्ट हाउस में संचालित देह व्यापार के अड्डे से मुक्त करवाया था।

आजाद नगर सीएसपी (प्रोबेशनरी आइपीएस) मोती उर रहमान और विजय नगर थाना टीआइ तहजीब काजी ने गुरुवार रात आरोपित विजय दत्त उर्फ मामनूर उर्फ मामून, बबलू उर्फ पलाश सरकार, प्रमोद, उज्जवल ठाकुर और दीपा शेख, आकीजा से पूछताछ की। विजय ने बताया कि देह व्यापार से कमाई राशि बांग्लादेश में निवेश कर रहा था। उसने साले रुबेल को बांग्लादेश में मोबाइल शोरूम खुलवा दिया था। कईं बार उसकी पत्नी जौशना खातून बेटों के साथ अवैध तरीके से सीमा पार कर भारत आती थी।

एनजीओ से जुड़ी जोशना लड़कियों की खरीद-फरोख्त में शामिल है, यह पहले ही स्पष्ट हो चुका है। इसी तरह बबलू भी कईं शादियां कर चुका है और पत्नियों के जरिए देह व्यापार का नेटवर्क संचालित कर रहा था। टीआइ के मुताबिक बबलू के पास से जब्त फर्जी आधार कार्ड के बारे में पूछताछ की तो बताया कि उसकी पत्नी देह व्यापार में लिप्त रही है। मोहित गेस्ट हाउस से मुक्त हुई उसकी पत्नी को बाणगंगा क्षेत्र के एक शेल्टर होम में भिजवा दिया था। दोबारा बांग्लादेश भेजने के डर से बबलू फर्जी आइडी कार्ड लेकर शेल्टर होम पहुंचा और उक्त लड़की को पत्नी बता गुजरात ले गया। टीआइ के मुताबिक आरोपित कुटीर उद्योग की तरह देह व्यापार का धंधा करने लगे थे। एसपी के मुताबिक महिलाओं को केंद्रीय एजेंसी के माध्यम से बांग्लादेश भेजने की तैयारी कर रहे है। आरोपितों के साथ उन लड़कियों के खातों की भी जांच चल रही है जो देह व्यापार में लिप्त है।

बस चलाते-चलाते देह व्यापार में उतरा

आरोपित प्रमोद पाटीदार भी मामून का धामनोद, खंडवा और खरगोन का प्रमुख एजेंट बन गया था। उसने बताया कि पहले वह बस चलाता था। दलाल और लड़कियां उससे ही टिकट बुक करवाती थे। इस दौरान परिचय बढ़ गया और खुद ही दलाली करने लगा।

Posted By: gajendra.nagar