इंदौर से विदेश जाने वालों में नहीं है ओमिक्रान का खौफ, नहीं निरस्त हो रहे पैकेज

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 10:07 AM (IST)

नवीन यादव, इंदौर। कोरोना के नए वेरीएंट के रूप में सामने आए ओमिक्रान से भले ही दुनिया में डर का माहौल हो, लेकिन इससे विदेश घूमने जाने वाले लोगों पर कोई फर्क नहीं पड़ा है। शहर से विदेश जाने के लिए पैकेज करवा चुके लोग लगातार यात्रा कर रहे है। हालांकि केवल साउथ अफ्रीका जहां सबसे पहले नया वेरिएंट सामने आया था। वहां पर जाने वाले लोगों ने अपने पैकेज होल्ड पर करवा लिए है। वहीं घरेलू यात्रा करने वाले यात्रियों को भी इससे कोई फर्क नहीं पड़ा है, पर हर कुछ दिनों में बदली जाने वाली गाइड लाइन से यात्री जरूर परेशान है।

इंदौर से इन दिनों प्रदेश की एक मात्र सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ान दुबई की चल रही है। जिसमें अगली कुछ सप्ताह की उड़ानों में इकानामिक क्लास की सीटें ही खाली नहीं है। वहीं काेरोना के नए वेरीएंट सामने आने पर भी विदेश घूमने जाने वाले लोगों की संख्या में कोई फर्क नहीं पड़ा है। ट्रेवल एजेंट एसोसिएशन आफ इंडिया प्रदेश अध्यक्ष हेमेंद्र सिंह जादौन ने बताया कि इस बार कोरोना का नया वेरिएंट सामने आने पर यात्रियों में भय नहीं है।

इसी साल के शुरुआत में जब कोरोना की दूसरी लहर सामने आई थी, तब लोगों ने तत्काल अपने पैकेज कैंसल करवा लिए थे या आगे बढ़वा लिए थे। लेकिन वैक्सीनेशन होने के बाद इस बार काफी अंतर है। लोग घूमने जा रहे है। लोगों ने अपने पैकेज निरस्त नहीं करवाए है। जादौन ने अागे बताया कि इसकी एक बड़ी वजह यह भी है कि होटल उद्योग ने अपने आप को कोरोना प्रोटोकाल के हिसाब से ढ़ाल लिया है। पूरी तरह से सुरक्षित कर लिया है। इस कारण लोग घूमने से डर नहीं रहे है।

इन देशों के लिए ज्यादा जा रहे यात्री

ट्रेवल एजेंटस एसोसिएशन आफ इंडिया की सदस्य श्वेता चौपडा बताती है इंदौर से वैसे तो दुनिया के सभी प्रमुख देशाें में लोग घूमने जाते है। कई लोग सोलो ट्रिप करना भी पंसद करते है। लेकिन दुबई, फ्रांस, यूके, स्विट्जरलैंड जाने वालो की संख्या पहले ही की तरह है। इसके अलावा लोगों के बीच में मालदीव भी एक प्रमुख पयर्टन देश के रूप में सामने आया है। वहीं परिवार को लेकर सिंगापुर भी ज्यादा जाना पंसद कर रहे है। जहां तक बात साउथ अफ्रीका की है। यहां पर पयर्टन के अलावा बिजनेस के सिलसिले में भी बड़ी संख्या में लोग जाते है। लेकिन यहां के पैकेज ही होल्ड पर है।

घरेलू यात्रियों के लिए उलझन बढ़ा रही गाइडलाइन

जादौन के अनुसार घरेलू पयर्टन पर भी कोई फर्क नहीं पड़ा है। लोग इन दिनों लोग गुजरात और गोवा जैसे प्रदेशों में ज्यादा जा रहे है। वहीं उत्तर भारत में बर्फबारी शुरू हाेने के बाद लोग हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड जाना पसंद कर रहे है। वहीं नार्थ इस्ट के प्रदेशों की भी अच्छी मांग बनी हुई है। केन्द्र द्वारा लगातार गाइडलाइन में बदलाव किया जा रहा है। जिससे थोडी परेशानी हो रही है। यात्री लगातार फोन कर इस बारे में पूछते है। हालांकि दोनों डोज लगी होने से लोग आसानी से यात्रा कर रहे है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay