सोयाबीन वायदे में ऊपरी सर्किट, तेल और कपास्या खली में बढ़ोतरी

Updated: | Sat, 04 Dec 2021 02:43 PM (IST)

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दो-तीन दिन से मंदी के बाद सोयाबीन में शुक्रवार से फिर से तेजी आती दिखी। वायदा सोयाबीन में अपर सर्किट लग गया। सोयाबीन खुला 6430 पर बाद में 6401 के निचले स्तर तक गया। बाजार बंद होने तक उछाल के साथ 6648 पर पहुंचा और अपर सर्किट के साथ बिकवाली फ्रीज कर दी गई। दूसरी ओर एनसीडीईएक्स ने सोयाबीन और सरसों को अब संवेदनशील कमोडिटी की श्रेणी में शामिल कर लिया है। इसी के साथ दोनों उपजों पर अब सर्किट लिमिट को 6 प्रतिशत से घटाकर 4 प्रतिशत कर दिया गया है। हालांकि यह सीमा अगले महीने से लागू होगी। साफ है कि तिलहन में सरकार में सट्टेबाजी को नियंत्रित करते हुए तेजी पर भी अंकुश लगाना चाहती है।

रूस से खबर आ रही है कि सनफ्लावर तेल के निर्यात पर टैक्स में बढ़ोतरी कर दी गई है। प्रति टन करीब 4 डालर अब टैक्स ज्यादा देना होगा। चीन ने अमेरिका से 1.3 लाख टन सोयाबीन निर्यात के सौदे किए हैं। चालू सीजन में अमेरिका 210 लाख टन से ज्यादा सोया निर्यात कर चुका है।25 नवंबर वाले सप्ताह में अमेरिका से 10.63 लाख टन सोया, 1.46 लाख टन सोया मील और 49,233 टन सोया तेल निर्यात किया गया। हालांकि बीते सीजन के मुकाबले निर्यात का आंकड़ा कमजोर है। देशभर में सोयाबीन की आवक शुक्रवार को कुछ बढ़कर 4 लाख 75 हजार बोरी के करीब दर्ज की गई जिसमें से मध्यप्रदेश में दो लाख 25 हाजर बोरी की आवक रही। महाराष्ट्र में दो लाख बोरी और राजस्थान में 25 हजार बोरी आवक रही। प्लांटों की लेवाली जोरदार रहने के कारण भाव में पुन: तेजी देखने को मिली है। मंडियों में सोयाबीन के दाम बढ़कर 6200-6500 और प्लांट खरीदी भाव 6500-6625 रुपये प्रति क्विंटल तक बोले जाने लगे है।मौसम में बदलाव के साथ ही वैवाहिक सीजन चलने से खाद्य तेलों की डिमांड बाजार में एकबार फिर तेज हो गई है।

प्लांटों को सोयाबीन ऊंचे दामों पर मिलने के कारण शुक्रवार को ज्यादातर प्लांटों द्वारा सोया तेल के दामों में भी आंशिक बढ़ोतरी की है। इंदौर हाजर बाजार में सोयाबीन तेल सुधरकर 1210 रुपये प्रति क्विंटल तक बोला जाने लगा है। हालांकि लेवाली सीमित होने से तेजी को बल नहीं मिल रहा है। दूसरी ओर कपास उत्पादक राज्यों में मौसम खराब होने और बारिश से कपास को नुकसान है। इसके कारण कपास्या खली की आवक में भी भारी कमी के कारण भाव में तेजी रही। कपास्या खली में करीब 25 रुपये की तेजी प्रति 60 किलो पर दर्ज की गई। दरअसल, सीबोट सोया, सोया मील, सोया तेल मामूली बढ़त के साथ बंद हुए। आईसीई कैनोला बाजारों में सुधार देखा गया।

Posted By: gajendra.nagar