VIDEO: इंदौर के कनाड़िया रोड पर अवैध रिवाज और प्रेमबंधन गार्डन ध्‍वस्‍त, ऐसे हटाया अतिक्रमण

Updated: | Fri, 24 Sep 2021 10:40 AM (IST)

इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शुक्रवार की सुबह जब कई लोग सोकर भी नहीं उठे तब शहर के कनाड़िया रोड पर रिवाज और प्रेमबंधन नाम के दो गार्डन ध्वस्त कर दिए गए । इसके साथ ही इन गार्डन के मालिकों के परिवार के दो-तीन मकानों पर भी बुलडोजर चलेगा। यह निर्माण अवैध तरीके से किए गए हैं। यह गार्डन युनूस पटेल और उसके परिवार के बताए जा रहे हैं। प्रशासन, नगर निगम और पुलिस की इस संयुक्त कार्रवाई के लिए गुरुवार रात में ही तैयारी कर ली गई थी। अधिकारियों के मुताबिक, यह कार्रवाई शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे शुरू की गई।कनाड़िया रोड पर 750 मीटर लंबाई में दोनों तरफ 150 अवैध निर्माण तोड़े गए।

प्रेमबंधन गार्डन को तोड़ने की कार्रवाई सुबह छह बजे से शुरू की गई। इसके साथ ही रिवाज गार्डन को भी तोड़ा जा रहा है। कार्रवाईस्थल पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। कनाड़िया रोड पर वाहनों की आवाजाही रोककर कार्रवाई की गई। अब तक कोई भी पक्ष विरोध करने नहीं पहुंचा। तोड़फोड़ की कार्रवाई शांतिपूर्ण ढंग से जारी है।

रिवाज गार्डन के सोफे, एसी, टेबल, पंखे और कुर्सियां आदि सड़क पर रख दिए गए हैं।

रिवाज गार्डन का आफिस भी तोड़ा गया। प्रेमबंधन गार्डन के बाहर लगने वाली चाट-चौपाटी की दुकानें और ठेले भी हटाए गए। प्रेमबंधन गार्डन के सामने सड़क की दूसरी ओर अवैध रूप से बनाई गई 10 से ज्यादा दुकानें भी तोड़ी जा रही हैं। प्रेमबंधन गार्डन में 470 वर्गमीटर (लगभग पांच हजार वर्गफीट) अवैध निर्माण और रिवाज गार्डन लगभग चार हजार वर्गफीट अवैध निर्माण किया गया।

अपर आयुक्त संदीप सोनी ने बताया कि रिवाज गार्डन पूरी तरह अवैध है और प्रेमबंधन गार्डन को 1998 में जालसाजी से पंचायत से ली गई अनुमति के आधार पर बनाया गया है। भूमाफियाओं ने जो बिल्डिंग परमिशन बताई है, उसमें सरपंच के हस्ताक्षर हैं जबकि सचिव के हस्ताक्षर भी होने चाहिए। माफियाओं और तत्कालीन सरपंच के खिलाफ एफआइआर कराई जाएगी।

कार्रवाई के लिए प्रशासन, पुलिस और नगर निगम का बड़ा अमला लगाया गया। इसमें पुलिस के 80 सिपाही, चार थाना प्रभारी, दो एएसपी, नगर निगम के अपर आयुक्त और 100 से अधिक कर्मचारियों का दस्ता, अपर कलेक्टर, एसडीएम और तहसीलदारों की टीम है। कार्रवाई के दौरान ड्रोन कैमरों का इंतजाम किया गया है। यदि कार्रवाई के दौरान रहवासियों ने उपद्रव या विरोध किया तो उनको जेल पहुंचाने के लिए जेल वाहन भी तैयार रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने अवैध निर्माण कर संपत्ति बनाने वालों, अपराधियों और विभिन्न तरह के माफिया के खिलाफ कार्रवाई की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि अपराधियों की कमर तोड़ने के लिए उनकी संपत्ति को नेस्तनाबूद कर दिया जाए। इसके बाद ही जिला प्रशासन ने विभिन्न आपराधिक गतिविधियों में लिप्त आरोपितों की अवैध तरीके से बनाई गई संपत्ति को तलाश करना शुरू किया है। रिवाज और प्रेमबंधन गार्डन पर बेदखली की कार्रवाई अवैध निर्माण के कारण की गई है।

विवादों में रहा है बेटा

युनूस का बेटा कुछ दिन पहले विवादों में आया था। उस पर एक बच्चे के अपहरण का आरोप भी लगा था। इंटरनेट मीडिया पर नोट की गड्डी उडाते हुए भी उसका एक वीडियो वायरल हुआ था। युनूस और उसका परिवार नियम विरुद्ध निर्माण कर मोटी रकम लंबे समय से किराए के रूप में वसूल रहे थे। कुछ महीने पहले एक हिस्से पर रिमूवल कार्रवाई भी हुई थी, लेकिन बाद में कार्रवाई ठंडी पड़ गई।

गुंडों के अवैध निर्माण पर भी बुलडोजर चलाने की तैयारी

इधर प्रशासन ने गुंडों के अवैध निर्माण पर भी बुलडोजर चलाने की तैयारी कर ली है। प्रशासन ने पिछले भूमाफिया अभियान के दौरान कई गुंडों के अवैध निर्माण तोड़े थे लेकिन मामला कोर्ट में जाने के बाद कार्रवाई रोक दी गई थी। कोर्ट ने वर्षाकाल का हवाला देते हुए कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। 30 सितंबर को मानसून की रवानगी मानी जाती है। इसके बाद निगम और प्रशासन एक बार फिर गुंडों के अवैध निर्माण के खिलाफ मुहिम चला सकते हैं। जिनके अवैध निर्माण पर कार्रवाई की जाना है उनकी सूची भी तैयार कर ली गई है।

फोटो वीडियो - राजू पवार

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay