Cancer Screening Camp: आवश्यक है महिलाओं में गर्भाशय कैंसर की प्रारंभिक जांच

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 10:00 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जाग्स द्वारा दो दिवसीय परामर्श व कैंसर जांच शिविर का आयोजन किया गया। इस निश्शुल्क स्त्री रोग परामर्श शिविर में महिलाओं को गर्भाशय के कैंसर के बारे में जानकारी दी गई। डाक्टर्स ने बताया कि अभी भी गर्भाशय के कैंसर के प्रति महिलाओं में जागरूकता का प्रतिशत कम है। जबकि महिलाओं को जानकारी नहीं कि गर्भाशय के कैंसर का पता करीब 10 वर्ष पूर्व ही लगाया जा सकता है। बस आवश्यकता है कि महिलाएं अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहें। परिवार का ध्यान रखें लेकिन साथ ही अपना भी ध्यान रखें। जब वे स्वस्थ रहेंगी तभी परिवार को भी स्वस्थ रख पाएंगी। अक्सर महिलाओं में अपने स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही देखी जाती है इसका परिणाम भी उन्हें स्वयं की झेलना पड़ता है। डाक्टर्स ने बताया कि कैंसर के प्रति जारूकता रखना आवश्यक है। कम से कम महिलाओं को कैंसर के लक्षणों के बारे में तो पता होना ही चाहिए। जिससे वे अपने साथ सतर्कता रख सकें।

यह दो दिवसीय आयोजन जाग्स उपाध्यक्ष डा. कोवरी शा द्वारा आयोजित किया गया। इस शिविर में महिलाओं को श्वेत प्रदर, अनियमित माहवारी व अन्य समस्याओं के बारे में जानकारी दी गई। इसके साथ ही गर्भाशय के कैंसर का पता लगाने के लिए पैप स्मीयर जांच की भी शिविर में निश्शुल्क की गई। शिविर में डा. जी के मल्होत्रा, इंदु लता प्यासी, मीना पटेल, डा. शांभवी कल्याणी, डा. आरती, दीप्ति तिवारी, राहुल, हेमंत, नीलम, निर्मला, सोना, सुबोध व अन्य सदस्य उपस्थित रहे। इस अवसर पर रेणुका शर्मा, सुमिता अरोरा, रानी पटेल, द्रोपती साहू सहित 15 महिलाओं की पैप स्मीयर जांच निश्शुल्क हुई।

Posted By: Ravindra Suhane