HamburgerMenuButton

Jabalpur News: गुरुनानक जन्मोत्सव पर सजे भव्य कीर्तन दरबार

Updated: | Mon, 30 Nov 2020 08:33 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि ।

श्री गुरुनानक देव की 551 वी जयंती सोमवार को प्रकाश उत्सव के रूप में हर्ष, उल्लास, उमंग, उत्साह और श्रद्धापूर्वक मनाई गई। श्री गुरुनानक देव की चरण राज्य से पावन गुरुनानक स्थली गुरुद्वारा मढ़ाताल में भव्य कीर्तन दरबार का आयोजन किया गया। यहां एक आकर्षक पालकी साहिब में स्थापित साहिब श्री गुरु ग्रंथ साहिब के समक्ष श्रद्धालुओं ने माथा टेककर मन की मुरादें मांगी और परस्पर एक-दूसरे को प्रकाश उत्सव की बधाइयां दी। गुरु ग्रंथ साहिब के सामने माथा टेकने वालों की सुबह से ही कतार लगी रही।

गुरूवाणी शबद कीर्तन प्रस्तुत किया:

मढ़ाताल गुरूद्वारा में रागी जत्था भाई नरेंद्र सिंह मढाताल, भाई बलजीत सिंह गोरखपुर एवं भाई इंद्रजीत सिंह प्रेम नगर मदन महल आदि ने सरस और मनमोहक गुरूवाणी शबद कीर्तन प्रस्तुत कर साथ संगत को रस विभोर किया।

विशेष अरदास करवाई:

मुख्य ग्रंथी ज्ञानी कुलजीत सिंह ने सरबत के भले विश्व शांति और कोरोना रहित विश्व की विशेष अरदास प्रार्थना संपन्न् करवाई। तदोपरांत साहिब श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के मुखवाक आदेश के श्रवण उपरांत कड़ा प्रसाद और मेवे का प्रसाद वितरित किया गया। इस मौके पर भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष को प्रधान साहिब प्रताप सिंह विरदी एवं महासचिव गुरुदेव सिंह रील ने सिरोपा प्रदान कर सम्मानित किया।

माथा टेककर प्रसाद ग्रहण किया:

इसके अलावा नगर के विभिन्न् गुरुद्वारों प्रेम नगर, गोरखपुर, अधारताल, रांझी खमरिया और अधारताल ग्वारीघाट आदि में भी श्रद्धालुओं ने माथा टेककर प्रसाद ग्रहण किया। प्रकाश पर्व पर श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारों एवं अपने-अपने घरों में दीप प्रज्ज्वलित कर खुशियों का इजहार किया तथा आतिशबाजी की गई।

Posted By: Sunil Dahiya
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.