Jabalpur Crime News : एक साल बाद खुला लूट का राज, सहकर्मी ने रचा था षडयंत्र

Updated: | Fri, 22 Oct 2021 08:10 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बरगी में फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी के साथ एक साल पूर्व हुई लूट का राजफाश करते हुए पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपित पीड़ित का सहकर्मी निकला, जिसने वारदात के कुछ दिन बाद ही नौकरी छोड़ दी थी। आरोपितों के कब्जे से नकदी, मोटरसाइकिल समेत अन्य सामग्री जब्त की गई है।

निजी फाइनेंस कंपनी में करता है काम : बरगी थाना प्रभारी रीतेश पांडेय ने बताया कि कालादेही निवासी श्याम दुबे एक निजी फाइनेंस कंपनी में काम करता है। छह अक्टूबर 2020 को शाम सात बजे वह फाइनेंस कंपनी के बरगी स्थित कार्यालय से कलेक्शन की रकम जमा करने बैंक जा रहा था। उसके बैग में करीब 80 हजार रुपये, दो मोटरसाइकिलों के दस्तावेज, कैश बुक, ब्लूटूथ व दो रजिस्टर रखे थे। श्याम खापा मार्ग पहुंचा था तभी मोटरसाइकिल पर सवार दो बदमाशों ने उसे ओवरटेक किया तथा बैग लूटकर भाग गए। पीड़ित की शिकायत पर लूट का प्रकरण दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी थी। थाना प्रभारी ने बताया कि श्याम से हुई पूछताछ में पता चला था कि कार्यालय में बैग में पैसे रखते हुए उसे सुकरी निवासी कोमल उर्फ विवेक राजपूत (22) ने देखा था। जिसने लूट की घटना के कुछ समय बाद फाइनेंस कंपनी की नौकरी छोड़ दी थी। पुलिस ने संदेह के आधार पर बरगी में मैगी पाइंट से कोमल को पकड़ा। जहां उसके साथ सुकरी निवासी अंकित उर्फ आदर्श राजपूत (27), पंकज राजपूत (19) को भी हिरासत में लिया गया। पूछताछ में अंकित व पंकज ने बताया कि लूट की योजना कोमल ने बनाई थी। घटना से पूर्व उसी ने उन्हें जानकारी दी थी कि श्याम रकम जमा करने के लिए बैंक जा रहा है। कलेक्शन की रकम बैग में रखी है। जिसके बाद उन्होंने मौका पाकर श्याम से बैग लूट लिया था। लूट की रकम के 26-26 हजार रुपये तीनों ने बांट लिए थे। रकम बंटवारे से पूर्व तीनों ने 2 हजार 745 रुपये पार्टी में खर्च किए थे। आरोपित अंकित से 21 सौ रुपये तथा दोनों मोटरसाइकिल के दस्तावेज, कोमल से 17 सौ रुपये, ब्लूटूथ व बैग, पंकज से 14 सौ रुपये नकद व एक मोटरसाइकिल जब्त की गई है।

Posted By: Brajesh Shukla