जबलपुर: बद्हाल हुई गोलबाजार सड़क, स्मार्ट रोड निर्माण की सुस्त रफ्तार से बदली वाहनों की चाल

Updated: | Wed, 08 Dec 2021 02:04 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर स्मार्ट बनेगा तब बनेगा। लेकिन उसके पहले नागरिकों की जमकर फजीहत हो रही है। स्मार्ट सिटी, नगर निगम प्रशासन की अनदेखी और ठेकेदारों की मनमानी से शहर में हो रहे विकास व निर्माण कार्य सुविधा कम समस्या ज्यादा खड़ी कर रहे है।

निर्माण कार्यों की दशा ये है कि शहर का हृदय स्थल कहे जाने वाले शहीद स्मारक गोलबाजार की महज तीन किमी बद्हाल सड़क पिछले 10 माह बाद भी नहीं बन पाई है। स्मार्ड रोड निर्माण की रफ्तार इतनी सुस्त है कि सड़क से गुजरने वाले वाहनों की चाल ही बदल गई है। गड्ढों भरी सड़क उसमें भी खोदे गए फुटपाथ, सड़क पर बिखरा मलबा, धूल के गुबार नागरिकों का दम निकाल रहे हैं।

मदनमहल-दमोहनाका फ्लाई ओवर निर्माण के कारण गोलबाजार सड़क सहित इससे जुड़ी नौ लिंक रोड पर यातायात का दबाव और ज्यादा बढ़ गया है। जिसके कारण बद्हाल हो चुकी सड़क पर रोजाना जाम के हालात भी बनने लगे हैं। जिम्मेदार रोड निर्माण में सख्ती से तेजी लाने की बजाए सिर्फ ठेकेदार को सिर्फ समझाइश ही दे रहे हैं।

पांच वर्षो से बद्हाल है सड़क: विदित हो कि स्मार्ट रोड फेज-3 के तहत गोलबाजार सहित इससे जुड़ी नौ लिंक रोड स्मार्ट रोड के चक्कर में पिछले पांच वर्षों से बद्हाल है। सड़कों पर इतने गहरे गड्ढे हो गए कि वाहन तो दूर राहगीर पैदल भी नहीं चल पा रहे हैं। तत्कालीन पार्षदों ने कई बार सड़क के गड्ढे भरवाने के लिए सड़क पर धरना-प्रदर्शन भी लेकिन गड्ढे नहीं भरे गए। अब निर्माण कार्य के चलते तोड़फोड़, खोदाई किए जाने से इस सड़क पर चलना तक दूभर हो गया है।

------

इसलिए हो रहे नागरिकों की फजीहत: - पूरी सड़क में गड्ढे हो गए हैं। स्मार्ट रोड बनाने के लिए फुटपाथ तोड़ दिए गए है। भूमिगत बिजली लाइन, सीवर लाइन, 24 घंटे 7 दिन पानी देने की योजना के तहत पाइपलाइन बिछाने के लिए दोनों तरफ खोदाई की गई है। निर्माण कार्य की रफ्तार इतनी धीमी है कि करीब वर्ष होने को है लेकिन अभी तक भूमिगत लाइन डालने और फुटपाथ बनाने का काम पूरा नही हो पाया है। स्मार्ट रोड बनाने का ठेका भाषा एसोसिएट कंपनी को दिया गया है।

- निर्माण कार्य के दौरान खोदाई के दौरान निकला मलबा भी नहीं उठाया जा रहा है। सड़क किनारे मलबे के ढेर, अधूरे निर्माण के कारण ऊपर तक निकली लोहे की सरिया वाहन चालकों की परेशानी बढ़ा रही है।

- गोलबाजार सड़क सहित इससे जामदार अस्पताल,बड़ा फुहारा, लार्डगंज, रानीताल को जोड़ने वाली नौ लिंक रोड पर यातायात का दबा बढ़ गया है।

---------

24 घंटे रहता है यातायात का दबाब

- गोलबाजार सड़क में 24 घंटे यातायात का दबाव बना रहता है।

- स्कूल, कालेज, बैंक, अस्पताल, मार्केट व रहवासी क्षेत्र होने से नागरिकों की आवाजाही बनी रहती है।

- फ्लाई ओवर निर्माण के कारण गोलबाजार सहित इससे जुड़ी लिंक रोड से मेट्रो, आटो भी गुजरने लगे हैं।

--------

ऐसे दिखाए है सपने-

- 3 किमी लंबाई की होगी स्मार्ट रोड

- 2.1 मीटर के दोनों तरफ होंगे आकर्षक फुटपाथ, हरियाली बिखरी होगी

- 9 लिंक रोड को भी चौड़ा कर बनाया जाएगा स्मार्ट

- 18 मीटर होगी सभी सड़क की चौड़ाई

- 32 करोड रुपये होंगे खर्च

- मार्च 2022 तक काम पूरा करने का दावा

---------

गोलाबाजार सड़क निर्माण का कार्य प्रगति पर है। भूमिगत सीवरलाइन, पाइपलाइन डाले जाने के कारण थोड़ा समय लग रहा है। ये कार्य पूरा होते ही सड़क निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा। मार्च 2022 काम पूरा करा लेंगे।

कमलेश श्रीवास्तव, कार्यपालन यंत्री नगर निगम

Posted By: Ravindra Suhane