जबलपुर : बिजली बिलों में हुई गड़बड़ी पर इंजीनियरों के रुकेंगे इंक्रीमेंट

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 06:48 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बिजली बिलों में गड़बड़ी रोकने के लिए ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कंपनी के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। मंत्री की तरफ से जारी निर्देश में उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं की संतुष्टि हमारी पहली प्राथमिकता है। बिलों में गड़बड़ी के लिए अभियंताओं को जिम्मेदार माना जाएगा। कनिष्ठ अभियंता और सहायक अभियंता की भी जिम्मेदारी इस मामले में तय होगी। बिलों में किसी प्रकार की गड़बड़ी हुई तो इसकी जांच की जाएगी। जांच में यदि लापरवाही उजागर होगी तो कार्रवाई की जाएगी। मामला गंभीर होने पर इनके इंक्रीमेंट भी रोके। मंत्री ने कहा कि कॉल सेंटर में दर्ज होने वाली शिकायतों का भी तय समय पर निपटारा किया जाना चाहिए। हर महीने के बिल सही रीडिंग के आधार पर ही बनाए जाएं। इनमें तय स्लैब के हिसाब से ही दरें जोड़ी जाएं। औसत खपत के आधार पर बिल किसी भी स्थिति में नहीं दिए जाएं। इसके अलावा मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि खराब ट्रांसफार्मरों को बदलने में देर नहीं की जाए। यदि संभव हो सके तो उपभोक्ताओं से रायशुुमारी की जाए।

काम के बोझ से कर्मी को आया हार्ट अटैक : पाटन संभाग में पदस्थ संविदा कर्मी को हार्ट अटैक आया। जिन्हें उपचार के लिए तत्काल निजी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। मप्र मध्य प्रदेश विद्युत मंडल तकनीकी कर्मचारी संघ का आरोप है कि कम कर्मचारियों की वजह से काम का बोझ अधिक आ रहा है जिस वजह से कर्मचारी तनाव में दुर्घटनाग्रस्त या बीमार हो रहे हैं। हरेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि पाटन संभाग में पदस्थ संविदा कर्मी पवन विश्वकर्मा 29 नवंबर को सुबह 9:00 बजे अपने कार्य पर जा रहा था उसी समय अचानक उसके सीने में अत्यधिक दर्द हुआ। तत्काल पड़ोसियों के द्वारा संविदा कर्मी को जबलपुर हॉस्पिटल के आइसीयू वार्ड में भर्ती किया गया। उसके इलाज में डेढ़ लाख रुपया का खर्च आया है। संघ के अनुसार हर माह बढ़ी तादाद में कर्मचारी सेवानिवृत्त होते जा रहे हैं उनका बोझ दूसरे कर्मचारियों के कंधे के ऊपर बढ़ता जा रहा है। संघ के हरेंद्र श्रीवास्तव, मोहन दुबे, राजकुमार सैनी, अजय कश्यप, अरुण मालवीय आदि के द्वारा पूर्व क्षेत्र कंपनी प्रबंधन से मांग की गई है कि संविदा कर्मी के इलाज के लिए तत्काल सहायता राशि दी जाए।

Posted By: Brajesh Shukla