HamburgerMenuButton

Jabalpur News: साफ-सुधरा दिखा शहर, अतिक्रमणकारियों से खाली दिखे फुटपाथ

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 06:50 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। लंबे अरसे बाद शहर ने खुलकर सांस ली। आधे से ज्यादा शहर साफ-सुधरा नजर आया। चाय, पान के टपरे, सब्जी, रेहड़ी वालों, मोटर मैकेनिक सहित अन्य अतिक्रमणों के मकड़जाल से फुटपाथ भी खाली दिखे। आम दिनों में शहर की मुख्य सड़कों पर आधी सड़क घेरे बेतरतीब इधर-उधर खड़े वाहन भी व्यवस्थित कतारबद्ध दिखे। शहर का नजारा बदला-बदला नजर आया। दरअसल, यह बदलाव राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द, भारत के मुख्य न्यायाधीश अरविंद शरद बोबडे सहित अन्य विभूतियों के जबलपुर आगमन को लेकर की गई तैयारियों के मद्देनजर संभव हो पाया है।

स्वच्छता सर्वेक्षण में दिखे ऐसी ही झलक : जबलपुर पिछले चार सालों से स्वच्छता सर्वेक्षण की परीक्षा दे रहा है, लेकिन हर बार शहर को मुंह की खानी पड़ रही है। गुजरे चार सालों में शहर स्वच्छता सर्वेक्षण में टॉप-10 में भी जगह नहीं बना पाया है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2019-20 में भी 10 लाख की जनसंख्या वाले शहरों में 17वां स्थान मिला। जबकि देश भर में जबलपुर 43वें पायदान पर रहा। जानकारों की माने तो यदि स्वच्छता सर्वेक्षण 2021-22 के मद्देनजर भी आम तौर पर इसी तरह शहर को साफ-सुधरा, अतिक्रमण मुक्त व व्यस्थित रखा जाए तो केंद्रीय सर्वेक्षण टीम को शहर की ऐसी ही झलक देखने मिलेगी और शहर टॉप-10 तो क्या नंबर एक का मुकाम हासिल कर सकता है।

ऐसी दिखी शहर की सुंदर तस्वीर :

- इंदिरा मार्केट से मानस भवन, गोमुख चौराहे तक साफ-सुधरा व्यवस्थित रहा।

- सदर से लेकर ग्वारीघाट तक चकाचक रही सड़क, यातायात व्यवस्था रही बेहतर।

- सड़क किनारे चूने की लाइन डली रही, वाहन सड़क किनारे व्यवस्थित खड़े रहे।

- फुटपाथ रहे खाली।

- मालगोदाम क्षेत्र में खड़े होने पर रेलवे स्टेशन साफ नजर आया।

- बिरमानी पेट्रोल पंप से कटंगा चौराहे के आगे तक देख सकते थे राहगीर।

Posted By: Brajesh Shukla
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.